scriptbhartiya Tribal Party issue whip for Rajya Sabha elections | बीटीपी के व्हिप ने बढ़ाई विधायकों की टेंशन, राज्यसभा चुनाव की वोटिंग में भाग नहीं लेने के निर्देश | Patrika News

बीटीपी के व्हिप ने बढ़ाई विधायकों की टेंशन, राज्यसभा चुनाव की वोटिंग में भाग नहीं लेने के निर्देश

-हालांकि बीटीपी विधायक राजकुमार रौत और रामप्रसाद डंडोर मुख्यमंत्री गहलोत से मुलाकात करके समर्थन का आश्वासन दे चुके हैं, कांकरी डूंगरी प्रकरण में दर्ज मुकदमे वापस नहीं लेने से नाराज है बीटीपी

जयपुर

Published: June 09, 2022 11:32:57 am

जयपुर। प्रदेश में 4 सीटों पर हो रहे राज्यसभा चुनाव के मद्देनजर बसपा के बाद अब भारतीय ट्राइबल पार्टी (बीटीपी) ने भी अपने विधायकों के लिए व्हिप जारी कर दिया है और दोनों विधायकों को राज्यसभा चुनाव की वोटिंग में भाग नहीं लेने के निर्देश दिए गए हैं।

btp
btp

हालांकि इससे पहले बीटीपी विधायक राजकुमार रौत और रामप्रसाद डंडोर ने 2 दिन पहले ही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मुलाकात करके राज्यसभा चुनाव में समर्थन देने का दावा किया था। हालांकि उन्होंने कांग्रेस बाड़ेबंदी में शामिल नहीं होकर उदयपुर में ही एक अन्य होटल में रुकने की बात कही थी।

इधर अब पार्टी की ओर से राज्यसभा चुनाव में व्हिप जारी करने और मतदान से दूर रहने के निर्देशों के बाद दोनों विधायक भी असमंजस की स्थिति में है कि राज्यसभा चुनाव में सरकार का साथ दें या फिर पार्टी का भी व्हिप मानें।


इससे पहले भारतीय ट्राइबल पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष डॉक्टर वेलाराम घोघरा ने अपने दोनों विधायकों रामप्रसाद डंडोर और राजकुमार रौत को व्हिप जारी करते हुए पत्र भी लिखा है और पत्र में कहा कि कि साल 2018 में विधानसभा चुनाव में सागवाड़ा और चौरासी की जनता ने बीटीपी प्रत्याशियों को विधानसभा भेजकर इतिहास रचा था।

क्षेत्र की जनता की मांगों को विधानसभा में जोरदार ढंग से उठाया। यही नहीं, बीटीपी ने सियासी संकट के दौरान भी कांग्रेस सरकार को मजबूती देने के लिए उसका साथ दिया, लेकिन हमारे कुछ मांगे हैं जिन्हें सरकार पूरा नहीं कर पाई।

2 अक्टूबर 2020 को कांकरी डूंगरी प्रकरण पर उच्च स्तरीय जांच के लिए राज्यपाल और मुख्यमंत्री को 7 सूत्री मांग पत्र देकर इस प्रकरण में एसआईटी के गठन के अलावा समय-समय पर कई ज्ञापन पत्र क्षेत्र के मतदाताओं की भावना के अनुसार दिए हैं लेकिन आज तक हमारी मांगों की अनदेखी की गई है। काकडी डूंगरी अन्य प्रकरण में दर्ज मुकदमे वापस लेने की मांग पर भी सरकार ने कोई ध्यान नहीं दिया है। इसलिए अब बीटीपी विधायकों को सरकार का साथ नहीं देकर राज्यसभा चुनाव से तटस्थ रहना चाहिए।

व्हिप के बाद बीटीपी विधायकों के फैसले पर होगी नजर
इधर बीटीपी विधायकों के लिए व्हिप जारी होने के बाद अब दोनों विधायकों पर सभी की निगाहें होंगी कि बीटीपी विधायक मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को दिए गए आश्वासन को पूरा करते हैं या फिर पार्टी का व्हिप मानने के लिए मजबूर होते हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

जयपुर में एक स्वीमिंग पूल में रात का सीसीटीवी आया सामने, पुलिसवालें भी दंग रह गएकचौरी में छिपकली निकलने का मामला, कहानी में आया नया ट्विस्टइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलचेन्नई सेंट्रल से बनारस के बीच चली ट्रेन, इन स्टेशनों पर भी रुकेगीNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयधन कमाने की योजना बनाने में माहिर होती हैं इन बर्थ डेट वाली लड़कियां, दूसरों की चमका देती हैं किस्मतCBSE ने बदला सिलेबस: छात्र अब नहीं पढ़ेगे फैज की कविता, इस्लाम और मुगल साम्राज्य सहित कई चैप्टर हटाए

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: वडोदरा में आधी रात को देवेंद्र फडणवीस और एकनाथ शिंदे के बीच हुई थी मुलाकात, सुबह पहुंचे गुवाहाटीMaharashtra Political Crisis: शिंदे गुट के दीपक केसरक का बड़ा बयान, कहा- हमें डिसक्वालीफिकेशन की दी जा रही हैं धमकीMaharashtra Politics Crisis: शिवसेना की कार्यकारिणी बैठक खत्म, जानें कौन-कौन से प्रस्ताव हुए पारितTeesta Setalvad detained: तीस्ता सीतलवाड़ को गुजरात ATS ने लिया हिरासत में, विदेशी फंडिंग पर होगी पूछताछकर्नाटक में पुजारियों ने मंदिर के नाम पर बनाई फर्जी वेबसाइट, ठगे 20 करोड़ रुपएAmit Shah on 2002 Gujarat Riots: गुजरात दंगों पर SC के फैसले के बाद बोले अमित शाह, PM मोदी को इस दर्द को झेलते हुए देखा हैMaharashtra Political Crisis: वडोदरा में देवेंद्र फडणवीस और एकनाथ शिंदे के बीच हुई थी मुलाकात- रिपोर्ट'अग्निपथ' के विरोध में तेलंगाना के सिकंदराबाद में ट्रेन में आग लगाने वालों की वायरल हो रही वीडियो, पुलिस ने पहचान कर किया गिरफ्तार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.