दाह संस्कार में पीपीई कीट पहनकर पहुंचा दामाद, डर कर भागे लोग, ट्रैक्टर ट्रॉली में ले जाना पड़ा शव

कोरोना का खौफ : ससुर के दाह संस्कार में दामाद को पीपीई किट में देख भागे ग्रामीण, वृद्ध को कंधा लेने कोई नहीं आया, ट्रैक्टर ट्रॉली में ले जाना पड़ा मोक्षधाम

By: pushpendra shekhawat

Published: 22 Apr 2021, 10:26 PM IST

जयपुर / भीलवाड़ा। कोरोना के तेजी से बढ़ते संक्रमण को लेकर लोगों में दहशत है। संक्रमण के डर से भीलवाड़ा के लादूवास गांव में एक बुजुर्ग के शवयात्रा में उनके दामाद को पीपीई किट में देखकर ग्रामीण वहां से भाग लिए। किसी ने उन्हें कंधा तक नहीं दिया। इसके चलते शव को ट्रैक्टर-ट्रॉली से घर से मोक्षधाम ले जाना पड़ा। हालांकि इस बुजुर्ग की मौत कोरोना संक्रमण से नहीं हुई थी। लेकिन कोरोना संक्रमण के खौफ ने लोगों की संवेदनाएं भी कमजोर कर दी।

लादूवास निवासी एक बुजुर्ग को सीने में अचानक दर्द उठा। बुजुर्ग को 108 से उपचार के लिए करेड़ा स्वास्थ्य केन्द्र ले जाया गया। जहां डॉक्टर्स ने उसे मृत घोषित कर दिया। गांव में शोक छा गया । बुजुर्ग के बेटे गांव के बाहर अपने प्रतिष्ठान पर थे।

घटना की सूचना पर गांव आ गए। इसके बाद शव को मोक्षधाम ले जाने की तैयारी चल रही थी। तभी अचानक मृतक का दामाद पीपीई किट पहन कर घर से बाहर आया। उसे पीपीई किट में देखकर ग्रामीण सकते में आ गए। ग्रामीणों को बुजुर्ग की कोरोना से मौत की आशंका हो गई। उनमें चर्चाओं का दौर चल पड़ा।

यह बात कुछ ही क्षण में पूरे गांव में आग की तरफ फैल गई। धीरे-धीरे लोग दूरी बनाने लगे और वहां से दूर चले गए। कुछ नजदीकी लोग भी आशंकित थे। काफी देर बाद भी बुजुर्ग के शव को कंधा देने के लिए कोई आगे नहीं आया। मजबूरी में बेटे कुछ रिश्तेदारों के साथ पिता के शव को ट्रैक्टर-ट्रॉली से मोक्षधाम लेकर रवाना हुए। जहां शव का दाह-संस्कार किया गया।

pushpendra shekhawat Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned