scriptBig decision: power cuts in urban areas of Rajasthan | बड़ा फैसलाः राजस्थान के शहरी क्षेत्रों में भी बिजली कटौती, सड़कों पर उतरी महिलाएं | Patrika News

बड़ा फैसलाः राजस्थान के शहरी क्षेत्रों में भी बिजली कटौती, सड़कों पर उतरी महिलाएं

Power Cut In Rajasthan : राजस्थान में भीषण गर्मी के बीच बिजली संकट और गहरा रहा है। तभी तो गांवों के साथ अब शहरों में भी बिजली कटौती की जाएगी। जल्द ही कटौती का आदेश और समय तय कर दिया जाएगा। बड़ी बात यह है कि बिजली कटौती पर जनप्रतनिधियों और विधायकों से चर्चा की गई है। उधर, जमकर बिजली कटौती के विरोध में महिलाएं तक सड़कों पर उतरने लगी हैं।

जयपुर

Updated: April 27, 2022 04:25:34 pm

Power Cut In Rajasthan : राजस्थान में भीषण गर्मी के बीच बिजली संकट और गहरा रहा है। तभी तो गांवों के साथ अब शहरों में भी बिजली कटौती की जाएगी। जल्द ही कटौती का आदेश और समय तय कर दिया जाएगा। बड़ी बात यह है कि बिजली कटौती पर जनप्रतनिधियों और विधायकों से चर्चा की गई है। उधर, जमकर बिजली कटौती के विरोध में महिलाएं तक सड़कों पर उतरने लगी हैं। बुधवार को प्रतापगढ़ में महिलाओं ने बिजली कटौती और कम वोल्टेज की समस्या को लेकर भीषण गर्मी के दौरान प्रदर्शन किया। महिलाओं का आरोप था कि बिना बताए कई-कई घंटे कटौती की जा रही है। बात करें जयपुर जिले की तो यहां भी डेढ़ घंटे की जगह चार से पांच घंटे बिजली कटौती की जा रही है।

photo_2022-04-27_15-20-05.jpg

जमकर अघोषित कटौती
राजस्थान में बिजली की डिमांड और आपूर्ति में तेजी से बढ़ रही अंतर के बीच ऊर्जा मंत्री भंवर सिंह भाटी ने कहा है कि अब शहरी क्षेत्रों में भी बिजली कटौती की जाएगी। कटौती अगले 24 घंटे के भीतर शुरू हो सकती है और शाम तक समय तय भी किया जाएगा। बतादें कि अभी ग्रामीण इलाकों में दो से ढाई घंटे तक घोषित कटौती की जा रही है, जबकि दिनभर अघोषित कटौती जारी है। जयपुर जिले में ही हालात खराब हैं। यहां भी जमकर कटौती की जा रही है। लोगों का आरोप है कि जयपुर में कोई कटौती नहीं, जबकि जयपुर जिले में जमकर बिजली गुल की जा रही है।

कोयले की कमी से बढ़ा संकट
ऊर्जा विभाग और डिस्कॉम्स ने बिजली मांग और आपूर्ति में गहराए अंतर को देखते हुए कटौती का निर्णय किया है। बिजली की मांग पिछले वर्ष की तुलना में इस समय 31 प्रतिशत बढ़ गई है। इससे एक साथ 1000 से 1500 मेगावाट बिजली की कमी हो गई। निर्णय के अनुसार शहर (जिला एवं संभाग मुख्यालय को छोड़कर) में सवेरे 6 से 10 और शाम को 6 से रात 9 बजे के बीच बिजली कटौती की जाएगी। विद्युत निगम के आला अधिकारियों का तर्क यह है कि कोयला संकट भी बना हुआ है और एनर्जी एक्सचेंज से महंगे दाम में भी बिजली नहीं मिल पा रही। सभी स्थितियों को देखते हुए ही कटौती का निर्णय करना कई राज्यों में तो हमसे भी ज्यादा स्थिति विकट है।

राजधानी में 40 लाख यूनिट ज्यादा
राजधानी जयपुर की बात की आए तो यहां रोजाना 200 लाख यूनिट बिजली की खपत हो रही है। जबकि पिछले साल अप्रेल के इन्हीं दिनों में 160 लाख यूनिट तक हो रही थी। जयपुर विद्युत वितरण के अधीक्षण अभियंता ए.के. त्यागी ने बताया कि जयपुर में बिजली की मांग लगातार बढ़ रही है और खपत रोजाना 200 लाख यूनिट को पार कर गई है। लेकिन राजधानी में कटौती जैसी कोई बात नहीं की गई है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

PM Modi In Telangana: 6 महीने में तीसरी बार तेलंगाना के CM केसीआर ने एयरपोर्ट पर PM मोदी को नहीं किया रिसीवMaharashtra Politics: संजय राउत का बड़ा दावा, कहा-मुझे भी गुवाहाटी जाने का प्रस्ताव मिला था; बताया क्यों नहीं गएक्या कैप्टन अमरिंदर सिंह बीजेपी में होने वाले हैं शामिल?कानपुर में भी उदयपुर घटना जैसी धमकी, केंद्रीय मंत्री और साक्षी महाराज समेत इन साध्वी नेताओं पर निशानाउदयपुर हत्याकांड के दरिदों को लेकर आई चौंकाने वाली खबरSingle Use Plastic: तिरुपति मंदिर में भुट्टे से बनी थैली में बंट रहा प्रसाद, बाजार में मिलेंगे प्लास्टिक के विकल्पपाकिस्तान में चुनावी पोस्टर में दिख रहीं सिद्धू मूसेवाला की तस्वीरें, जानिए क्या है पूरा मामला500 रुपए के नोट पर RBI ने बैंकों को दिए ये अहम निर्देश, जानिए क्या होता है फिट और अनफिट नोट
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.