आखिर आमेर महल के इसी हिस्से में क्यों गिरी मौत की बिजली.... अब तक ग्यारह मर चुके.... जानिए पूरा सच

ये जानलेवा बिजली अभी तक ग्यारह लोगों की मौत ले चुकी है और कई अभी भी बेहद गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती किए गए हैं।

By: JAYANT SHARMA

Published: 12 Jul 2021, 11:11 AM IST

जयपुर
रविवार रात आमेर महल के वाॅच टाॅवर पर गिरी बिजली का पूरा सच आपके लिए जानना बेहद जरुरी है। ये जानलेवा बिजली अभी तक ग्यारह लोगों की मौत ले चुकी है और कई अभी भी बेहद गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती किए गए हैं।

मौसम विज्ञानियों के अनुसार बिजली अधिकतर उंची जगहों को टारगेट करती हैं। इस दौरान धातु की कोई भी वस्तु बिजली गिरने की परिधी में आती है तो उसे ही केंद्रित किया जाता हैं। बारिश के दौरान बहुत से जगह पानी से भरे बादल बेहद नीचे तक आ जाते हैं। बादलों में नेगेटिव और पाॅजिटिव दोनो तरह की फोर्स होती है और यही फोर्स जमीन पर उंचाई वाली जगहों को तलााश् करती हैं।

आमेर मंे जहां बिजली गिरी वह जगह जमीन से करीब दो हजार फीट की उंचाई पर है और उपर से वहां बिजली झेलने के लिए प्वाइंट के तौर पर धातु का मिश्रण भी मिल गया जो बिजली जमीन तक पहुंचाने के लिए बेहद सुविधाजनक रहा। वहीं अगर ग्रामीण क्षेत्र की बात की जाए तो अधिकतर बारिश के समय खेतों में भी बिजली गिरती है। बिजली सीधे जमीन पर नहीं आती उसे जमीन पर आने के लिए माध्यम की जरुरत रहती है।

फिर चाहे वह धातु, बिजली का कोई पोल हो या फिर उंचा लंबा पेड़ ही क्यों नहीं हो। बिजली गिरने के बाद आसपास के कई मीटर के क्षेत्र में फैलती है और उसके बाद सीधे जमीन में जाती है। इस दौरान जो भी उसके रेडिसय में आता है पलक झपकते ही मौत की नींद सो जाता हैं। फिर चाहे वह इंसान हो या कोई पशु....।

weather update
JAYANT SHARMA Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned