‘बिजली मित्र’ से भरो बिल, वरना नहीं मिलेगा वेतन, विभाग ने दिया आदेश

Dinesh Saini | Publish: Sep, 07 2018 11:21:24 AM (IST) | Updated: Sep, 07 2018 12:44:34 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

www.patrika.com/rajasthan-news/

जयपुर। जयपुर डिस्कॉम ने अपने 13 जिलों में 16 हजार कर्मचारियों-अधिकारियों को आदेश दिया है कि अपने घर का बिजली बिल अब वे बिजली मित्र ऐप के जरिए ही भरें। इसकी अण्डरटेकिंग भी देनी होगी कि बिल ऐप के जरिए ही भरा है। वरना उनका वेतन रोक दिया जाएगा।

यह आदेश इसी माह से प्रभावी होगा और निदेशक मण्डल से लेकर कर्मचारी तक सभी पर लागू होगा। वेतन वितरण अधिकारियों को पाबंद किया गया है कि सितम्बर एवं उसके बाद का वेतन तब ही जारी करें, जब कर्मचारी-अधिकारी निर्धारित प्रारूप में अण्डरटेकिंग दें। इसे क्रॉस चैक भी किया जाएगा।


यहां लागू होगा आदेश
जयपुर जिला वृत्त, दौसा, अलवर, करौली, भरतपुर, धौलपुर, सवाईमाधोपुर, टोंक, बूंदी, कोटा, बारां, झालावाड़ सर्कल में लागू है। जयपुर सिटी सर्कल में कुछ दिन पहले ही लागू हुआ है।


यह देनी होगी अण्डरटेकिंग
- मोबाइल पर बिजली मित्र ऐप डाउनलोड कर लिया है।
- सितम्बर में प्राप्त बिजली बिल का भुगतान बिजली मित्र ऐप से किया है।
- भविष्य में अपने घर का बिजली बिल स्वेच्छा से बिजली मित्र ऐप के जरिए ही भरूंगा।


ऐप पर मिलेगी पूरी जानकारी, यहां से करें डाउनलोड
जयपुर डिस्कॉम के प्रबंध निदेशक आरजी गुप्ता के अनुसार, गूगल प्ले स्टोर या आइफोन स्टोर से यह ऐप निशुल्क डाउनलोड कर अपने विद्युत बिल के 13 अंकों वाले च्केच् नंबर के जरिए यह सुविधा रजिस्टर की जा सकती है। इसके बाद उपभोक्ता अपने बिजली बिल का भुगतान घर बैठे कर सकते हैं। डेशबोर्ड पर क्लिक कर हर महीने की बिजली उपभोग यूनिट का जानकारी, पुराने बिलों की हिस्ट्री और पिछले महीने किए गए भुगतान की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। इसके साथ ही मीटर डिटेल्स के विकल्प को क्लिक करने पर मीटर की पूरी जानकारी तथा कनेक्शन डिटेल्स के विकल्प में कनेक्शन की पूरी जानकारी देखी जा सकती है।


- ऑनलाइन भुगतान को बढ़ावा देने के लिए यह व्यवस्था लागू की गई है। वैसे भी सभी कर्मचारी-अधिकारी किसी न किसी रूप में ऑनलाइन ही भुगतान करते रहे हैं।
आरजी गुप्ता, अध्यक्ष व प्रबंध निदेशक, जयपुर डिस्कॉम

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned