जयपुर चिडियाघर बंद, बर्ड फ्लू के चलते उठाया कदम, चार पक्षी मृत मिले, तीन बीमार

राज्य में चिड़ियाघर में पक्षियों की मौत का पहला मामला, बरेली भेजे सैंपल, दो दिन बंद रहेगा चिड़ियाघर

By: pushpendra shekhawat

Published: 11 Jan 2021, 04:02 PM IST

देवेन्द्र सिंह राठौड़ / जयपुर। बर्ड फ्लू ने अब राजधानी स्थित चिड़ियाघर में भी दस्तक दे दी है। सोमवार सुबह यहां चार पक्षियों की संदिग्ध मौत होने से सनसनी फैल गई है, जबकि तीन पक्षी अभी बीमार है। चिड़ियाघर प्रशासन ने आनन फानन में चिडियाघर में सैलानियों का प्रवेश पर दो दिन तक रोक लगा दी है।

वन अधिकारियों के मुताबिक यहां पक्षियों के सेक्शन में तीन कॉमन डक, एक स्टॉर्क मृत मिला है। वहीं तीन कॉमन डक बीमार है। इससे चलते यहां पक्षियों की मॉनिटरिंग भी बढ़ा दी गई है। हैरत की बात है कि, चिडियाघर के आसपास लगातार पक्षी मृत मिल रहे थे। इसके बावजूद भी इन पक्षियों को लेकर कोई खास इंतजाम नहीं किए गए। जबकि राजस्थान पत्रिका ने लगातार इस मुद्दे को प्रमुखता से उठाया और पक्षियों की चिंता जताई लेकिन अफसरों के कान पर जूं तक नहीं रेंगी।

आखिर स्थिति बिगड़ी तो, अब अफसरों में हड़कंप मच गया है। बता दे, राज्य में चिडियाघर में पक्षियों की मौत का यह पहला मामला सामने आया है। चारों पक्षियों के सैंपल भोपाल स्थित लैब में जांच के लिए भेजे गए है।

11 जिले बर्ड फ्लू की चपेट में
राजस्थान के 11 जिले बर्ड फ्लू की चपेट में हैं। इनमें सवाई माधोपुर, पाली, दौसा और जैसलमेर शामिल हैं। सवाई माधोपुर में मरे कौओं में बर्ड फ्लू का एच 5 स्ट्रेन मिला है।

कानपुर चिडिय़ाघर सील
कानपुर चिडिय़ाघर को बर्ड फ्लू वायरस मिलने के बाद सील कर दिया गया। यहां चार पक्षियों की मौत की जांच रिपोर्ट में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई। चिडिय़ाघर के आस-पास के इलाके को रेड जोन घोषित किया गया। रविवार को एक किमी में संदिग्ध पक्षियों को मारने का काम शुरू किया गया। यहां 10 किमी में अंडे और चिकन की सभी दुकानों को अगले आदेश तक बंद कर दिया गया। दिल्ली में विभिन्न स्थानों पर कौवों की मौत को लेकर दिल्ली सरकार ने भी बर्ड फ्लू के खतरे के खिलाफ तैयारियां शुरू कर दी हैं।

pushpendra shekhawat Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned