ओवरफ्लो होने के करीब बीसलपुर, आखिरी बार 2016 में हुआ था एेसा

ओवरफ्लो होने के करीब बीसलपुर, आखिरी बार 2016 में हुआ था एेसा

Ashish sharma | Updated: 17 Aug 2019, 05:16:07 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

जयपुर ( Jaipur ) , अजमेर ( Ajmer ) , टोंक ( Tonk ) शहर की लाइफलाइन माने जाने वाले बीसलपुर बांध ( Bisalpur Dam ) के छलकने के करीब पहुंच गया है लेकिन बांध ( Dam ) के ओवरफ्लो ( Dam Overflow )होने के लिए अभी कुछ घंटों का इंतजार करना पड़ सकता है। बांध में 16 अगस्त को जहां 14 घंटो में दो मीटर से ज्यादा पानी ( Water ) आ गया था, वहीं बांध में शनिवार को 8 घंटे में आधी मीटर पानी भी नहीं आया।

जयपुर
जयपुर ( Jaipur ) , अजमेर ( Ajmer ) , टोंक ( Tonk ) शहर की लाइफलाइन माने जाने वाले बीसलपुर बांध ( Bisalpur Dam ) के छलकने के करीब पहुंच गया है लेकिन बांध ( Dam ) के ओवरफ्लो ( Dam Overflow )होने के लिए अभी कुछ घंटों का इंतजार करना पड़ सकता है। बांध में 16 अगस्त को जहां 14 घंटो में दो मीटर से ज्यादा पानी ( Water ) आ गया था, वहीं बांध में शनिवार को 8 घंटे में आधी मीटर पानी भी नहीं आया। त्रिवेणी ( Triveni ) का गेज भी औसत रूप से 4 मीटर पर चला। ऐसे में बांध में पानी आने की रफ्तार धीमी हो गई है। बांध में अब तक 30 टीएमसी पानी शनिवार शाम तक आ चुका है जबकि बांध की कुलभराव क्षमता 38.5 टीएमसी है। बांध में कुल 18 गेट हैं।

आपको बता दें कि 16 अगस्त को सुबह 8 बजे बांध का वाटर लेवल 311.10 आरएल मीटर
था जो कि रात को दस बजे 313.10 आरएल मीटर हो गया था। इस तरह बांध में 14 घंटे में 2 मीटर पानी आ गया था। इसके बाद भी पानी आने का सिलसिला जारी रहा। शनिवार की बात करें तो सुबह 8 बजे बांध का गेज 313.92 आरएल मीटर पर रहा जो कि शाम 4 बजे पहुंचकर 314.37 आरएल मीटर पहुंच गया था। इस तरह बांध में 0.45 मीटर पानी की ही आवक 8 घंटों में हुई। हालांकि बांध में पानी की आवक का सिलसिला जारी है।

2016 में आखिरी बार हुआ ओवरफ्लो
16 अगस्त को त्रिवेणी का गेज जहां 7 मीटर तक पहुंच गया था, वहीं शनिवार को गेज 4 मीटर के आस पास रहा। इस वजह से बांध में पानी आने की रफ्तार धीमी हो गई। आपको बता दें कि 2016 में बीसलपुर बांध आखिरी बार ओवरफ्लो हुआ था। तब बांध के गेट खोलने पड़ गए थे। कई दिन तक बांध के गेट खोलकर पानी निकाला गया। इस बार यह संभावना जताई जा रही है कि बांध की कुल भराव क्षमता 315.50 आरएल मीटर तक बांध भरने के बाद पानी आने के फ्लो के आधार पर बांध के गेट खोले जा सकते हैं लेकिन उसके लिए अभी कुछ घंटों का इंतजार करना पड़ सकता है।
10 मीटर पर पहुंच गई थी त्रिवेणी
जानकारों का कहना है कि 2016 में त्रिवेणी का जलस्तर 10 मीटर तक पहुंच गया था, ऐसे में बीसलपुर बांध में कुल भराव क्षमता से भारी मात्रा में पानी की आवक हुई थी लेकिन इस मानसून सीजन में अभी तक त्रिवेणी का स्तर 7 मीटर के आसपास ही पहुंचा है। हालांकि टोंक जिले में देवली के उपखंड अधिकारी ने बांध के गेट खोलने की संभावना को देखते हुए ब्लॉक स्तरीय अधिकारियों और कर्मचारियों को बिना अनुमति के मुख्यालय नहीं छोड़ने के लिए पाबंद कर दिया है।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned