Good News : मुुख्यमंत्री-राज्यपाल के ​साथ जयपुरवासियों को मिलेगा ज्यादा पानी, इन इलाकों में बदलेंगी पेयजल लाइनें

Good News : मुुख्यमंत्री-राज्यपाल के ​साथ जयपुरवासियों को मिलेगा ज्यादा पानी, इन इलाकों में बदलेंगी पेयजल लाइनें

Deepshikha | Updated: 18 Sep 2019, 06:10:37 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

Water Supply Project Jaipur : मंत्रीमण्डलीय उपसमिति ने शहर के चार प्रोजेक्ट सहित राज्य की कई परियोजना को दी स्वीकृति-राजभवन-सीएम आवास पेयजल संवदृर्धन योजना-गुर्जर की थड़ी, गोनेर और प्रताप नगर इलाके में पेयजल लाइन अब बिछेगी-पूर्ववर्ती भाजपा सरकार के कार्यकाल के अंतिम छह माह हुए स्वीकृति इन प्रोजक्ट पर अब तक थी रोक

भवनेश गुप्ता / जयपुर। मुख्यमंत्री, राजभवन, मंत्रियों के सरकारी आवास सहित सिविल लाइन्स इलाके में नई पेयजल लाइन बिछाने और दूसरे उच्च जलाशय से पेयजल सप्लाई की राह खुल गई है। मंत्रीमण्डलीय उपसमिति ने इस सहित शहर के 4 प्रोजेक्ट को बंद पोटली से बाहर निकाल दिया है। इसमें गुर्जर की थड़ी, गोनेर, प्रताप नगर इलाके में पेयजल लाइन से जुड़े काम होने हैं। इसके अलावा महत्वकांक्षी ब्राहृमणी बीसलपुर इंटरलिंक प्रोजेक्ट की डीपीआर भी अधिकारिक रूप से काम हो सकेगा।

सीएम आवास पेयजल संवदृर्धन योजना :

यहां राजभवन, मुख्यमंत्री निवासी, मंत्रियों के 22 बंगले सहित सूरज नगर पूर्व, शिवाजी नगर, रूप नगर इलाकों की पेयजल लाइन नई डलेगी। यहां कुल 63 कनेक्श्न हैं। यहां अभी सिविल लाइन फाटक के पास बनी टंकी से पेयजल सप्लाई हो रही है लेकिन नई व्यवस्था के तहत जलभवन स्थित उच्च जलाशय से पानी पहुंचेगा। जलदाय विभाग के अनुसार यहां करीब 60 साल पहले पेयजल लाइन डाली गई थी।

- लागत 20.01 करोड़ रुपए

2. गुर्जर की थड़ी प्रोजेक्ट :

गुर्जर की थड़ी इलाके में चंपा नगर, शांति नगर, प्रेम नगर प्रथम व द्वितीय, पंचवटी कॉलोनी, श्रीपुरम, सुख विहार, अशोक विहार, गोविन्द विहार, मोती नगर, करोल बाग व अन्य कई कॉलोनियों को बीसलपुर का पानी मिलेगा। यहां करीब 24 हजार आबादी है। अभी ट्यूबवेल पर ही निर्भरता है। स्वेज फार्म पंप हाउस से चिन्हित इलाकों तक पेयजल लाइन डाली जाएगी, जो करीब 20 किलोमीटर लम्बाई (डिस्ट्रीब्यूशन लाइन सहित) में होगी। यहीं 14 लाख लीटर क्षमता का उच्च जलाशय का निर्माण, 150 हॉसपावर का पंप लगाए जाने हैं।

-लागत1.01 करोड़ रुपए

3. प्रताप नगर :

यहां सेक्टर 7 व आस-पास के इलाके में मौजूदा लाइन को बदलने और नई डालने का काम होगा। इसमें उन इलाकों भी शामिल किया गया है, जहां अभी बीसलपुर पेयजल वितरण व्यवस्था है ही नहीं। अभी कई जगह पेयजल लाइन बदहाल हो गई या फिर पेयजल वितरण की जरूरत के अनुपात में छोटी पड़ रही है।

- लागत 3.19 करोड़ रुपए


4. क्षेत्रीय जल योजना, गोनेर : यहां पानी की टंकी व सतही टैंक निर्माण से लेकर पेयजल वितरण लाइन बिछानी जानी है। कई जगह पेयजल लाइन ही नहीं है। पेयजल प्रेशर कम होने के कारण नई टंकी निर्माण होना तय किया गया।

-लागत 4.13 करोड़ रुपए

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned