scriptBJP and Congress started election preparation regarding East Rajasthan | पूर्वी राजस्थान पर सियासतः भाजपा खोयी जमीन तलाश में जुटी, कांग्रेसी गढ़ बचाने में | Patrika News

पूर्वी राजस्थान पर सियासतः भाजपा खोयी जमीन तलाश में जुटी, कांग्रेसी गढ़ बचाने में

पूर्वी राजस्थान की 23 में से केवल एक सीट है भाजपा के खाते में, पूर्वी राजस्थान के 5 जिलों में 19 सीट पर कांग्रेस का कब्जा, एक सीट आरएलडी और 2 सीट निर्दलीय के खाते में

जयपुर

Updated: April 14, 2022 10:08:23 am

जयपुर। प्रदेश में डेढ़ साल के बाद होने जा रहे विधानसभा चुनाव को लेकर अभी से ही तैयारियां तेज हो गई हैं। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जहां अभी से ही चुनावी दौरे शुरू कर दिए हैं तो बीजेपी के कई केंद्रीय नेताओं के भी राजस्थान में चुनावी दौरे शुरू हो चुके हैं। हाल ही में जेपी नड्डा की ओर से पूर्वी राजस्थान पर फोकस करने के बाद कांग्रेस ने भी पूर्वी राजस्थान का अपना गढ़ बचाने के लिए ईस्टर्न कैनाल परियोजना का मुद्दा उछाल दिया है।

ashok gehlot
ashok gehlot

पूर्वी राजस्थान में खोयी जमीन तलाश रही है भाजपा
दरअसल पूर्वी राजस्थान के 5 जिलों धौलपुर, भरतपुर, सवाई माधोपुर, करौली और दौसा में भाजपा अपनी खोयी हुई जमीन तलाश रही है। इसीलिए पार्टी का पूरा फोकस इन दिनों पूरा राजस्थान पर है और एक विशेष अभियान के तहत इन जिलों में काम किया जा रहा है। वहीं दूसरी ओर सत्तारूढ़ कांग्रेस इन 5 जिलों में अपना वर्चस्व बरकरार रखने के लिए पूरी ताकत के साथ जोर लगाए हुए हैं।

5 जिलों की 23 विधानसभा क्षेत्रों में केवल एक सीट पर भाजपा का कब्जा
दिलचस्प बात यह है कि साल 2018 में विधानसभा चुनाव में पूर्वी राजस्थान के 5 जिलों की 23 विधानसभा सीटों में से बीजेपी को सबसे ज्यादा परेशानी का सामना यही करना पड़ा था ,जहां 23 सीटों में से केवल 1 सीट बीजेपी जीत पाई है जबकि 19 सीटों पर कांग्रेस पार्टी का कब्जा रहा है। 1 सीट राष्ट्रीय लोकदल और 2 सीट निर्दलीय के खाते में गई थी। लोकदल और निर्दलीय भी कांग्रेस को समर्थन दे रहे हैं।

लंबे समय तक ईआरसीपी को भुनाना चाहती है कांग्रेस
पूर्वी राजस्थान में भाजपा से मुकाबला करने और अपना गढ़ बचाने के लिए कांग्रेस ईस्टर्न कैनाल परियोजना को लंबे समय तक भुनाना चाहती है और यही वजह है कि अब इसे जोर-शोर से उठाया जा रहा है, जिससे कि इन 5 जिलों के साथ-साथ अन्य जिलों के मतदाताओं से भी सहानुभूति बटोरी जा सके। ऐसे में आने वाले समय में पूर्वी राजस्थान लेकर चर्चा और तेज होने वाली है।

पांच जिलों की इन सीटों पर कांग्रेस का कब्जा
कामां, नगर, डीग, वैर, बयाना, नदबई, सवाई माधौपुर शहर, खंडार, बामनवास, करौली- करौली टोड़ाभीम, सपोटरा हिंडौन, दौसा, सिकाराय बांदीकुई, राजाखेड़ा, बसेड़ी, बाड़ी है। इसके अलावा भरतपुर-आरलडी, गंगापुर और महवा निर्दलीय है। केवल धौलपुर भाजपा के खाते हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठाLiquor Latest News : पियक्कडों की मौज ! रात एक बजे तक खरीदी जा सकेगी शराबशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफMorning Tips: सुबह आंख खुलते ही करें ये 5 काम, पूरा दिन गुजरेगा शानदारDelhi Schools: दिल्ली में बदलेगी स्कूल टाइमिंग! जारी हुई नई गाइडलाइनMahindra Scorpio 2022 का लॉन्च से पहले लीक हुआ पूरा डिजाइन और लुक, बाहर से ऐसी दिखती है ये पावरफुल कारबैड कोलेस्‍ट्राॅल और डिमेंशिया को कम करके याददाश्त को बढ़ाता है ये लाल खट्‌टा-मीठा फल, जानिए इसके और भी फायदेAC में लगाइये ये डिवाइस, न के बराबर आएगा बिजली बिल, पूरे महीने होगी भारी बचत

बड़ी खबरें

पटना एयरपोर्ट पर बड़ा हादसा, निर्माण कार्य के दौरान गिरा लोहे का स्ट्रक्चर, दो मजदूरों की मौत, एक की टूटी रीढ़ की हड्डीPM मोदी तक पहुंची अल्मोड़ा की 'बाल मिठाई', स्टार शटलर लक्ष्य सेन ने ऐसा पूरा किया अपना वायदाराजस्थान में 50 हजार अपराधियों की बनेगी'कुंडली' थाना स्तर पर बनेगा डोजीयरविश्व प्रसिद्ध धार्मिक स्थल हेमकुंड साहिब और लक्ष्मण मंदिर के खुले कपाट, दो साल बाद लौटी रौनकPetrol-Diesel Prices Today: केंद्र के बाद राज्यों ने घटाए पेट्रोल-डीजल के दाम, जानें कितनी हैं आपके शहर में कीमतेंCheapest Home Loan: ये बैंक दे रहे हैं सबसे सस्ता होम लोन, यहां देखिए पूरी लिस्टQuad Summit 2022: प्रधानमंत्री मोदी का जापान दौरा, क्वाड शिखर सम्मेलन में बाइडेन से अहम मुलाकात, जानें और किन मुद्दों पर होगी बातGama Pehlwan के 144वें जन्मदिन पर गूगल ने बनाया डूडल, एक दिन में खाते थे 6 देसी मुर्गे और 10 लीटर दूध
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.