भाजपा की सीएए की पतंग आर्थिक मंदी, बेरोजगारी ने काटी

मकर संक्रांति पर सियासत के महारथियों ने पतंगबाजी में भी हाथ दिखाए। किसी ने ढील देकर तो किसी ने खेंच लगाकर विरोधियों की पतंग को काटा। पतंगबाजी के साथ विरोधियों पर जुबानी खेंच भी लगाई।

जयपुर।

मकर संक्रांति पर सियासत के महारथियों ने पतंगबाजी में भी हाथ दिखाए। किसी ने ढील देकर तो किसी ने खेंच लगाकर विरोधियों की पतंग को काटा। पतंगबाजी के साथ विरोधियों पर जुबानी खेंच भी लगाई।

मुख्य सचेतक महेश जोशी ने अपने आवास पर पतंगबाजी की और पेंच लड़ाए। इस दौरान उन्होंने चाइनीज मांझे का इस्तेमाल नहीं करने के साथ ही बड़ा बयान भी दिया। कांग्रेस नेताओं की आपसी बयानबाजी पर जोशी ने कहा कि राजनीति में कोई साधु-संत नहीं, बल्कि आम लोग आते हैं, जो कोई भी हो सकता है। ये लोग अच्छी और बुरी हर तरीके की बात करते हैं। जोशी ने कहा सीएए और एनआरसी को लेकर कहा कि यह केंद्र सरकार का अलगाववादी निर्णय है। कांग्रेस इसके विरोध में है। उन्होंने कहा कि अगर यह निर्णय सही होत तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री को सफाई देनी पड़ती।

जनता जा चुकी है भाजपा का झूठ-खाचरियावास

परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने अपने परिवारजनों एवं कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ अपने निजी निवास खाचरियावास हाउस पर पतंगबाजी की। उन्होंने कहा कि भाजपा पतंगबाजी के त्योहार को भी राजनीतिक रंग देकर अपनी झूठ, फरेब और धोखेबाजी की राजनीति से बाज नहीं आ रही। पूरा देश चाहता है कि भाजपा सच्चाई का सामना करते हुए आर्थिक मंदी, बेरोजगारी, भुखमरी, महंगाई की पतंग उड़ाकर अपनी असफलताओं को स्वीकार करें। देश की जनता भाजपा के झूठ फरेब को अच्छी तरह से जान चुकी है। उसी का परिणाम है कि सीएए की राजनीति करने वाली भाजपा ने झारखंड से भी सत्ता अपने हाथों से गंवाई। भाजपा गलत रास्ते चलकर सीएए की जो पतंग उड़ा रही है उस पतंग को देश की जनता ने आर्थिक मंदी महंगाई बेरोजगारी से काट दिया है।

Umesh Sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned