जयपुर में करंट से व्यक्ति की मौत पर गरमाई सियासत, बीजेपी-कांग्रेस नेता पहुंचे अस्पताल, लगाए एक-दूसरे पर आरोप

जयपुर में करंट से व्यक्ति की मौत पर गरमाई सियासत, बीजेपी-कांग्रेस नेता पहुंचे अस्पताल, लगाए एक-दूसरे पर आरोप

Deepshikha | Updated: 06 Oct 2019, 06:40:47 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

Jaipur News : सीताराम नगर बस्ती में हाइटेंशन लाइन से मकान में करंट आने से युवक की मौत के मामले पर सियासत गरमा गई

जयपुर / अविनाश बाकोलिया.शहर के सीताराम नगर बस्ती में हाइटेंशन लाइन से मकान में करंट आने से युवक की मौत के मामले पर सियासत गरमा गई। व्यक्ति की मौत के बाद परिजन और स्थानीय लोग मुआवजे की मांग को लेकर धरने पर बैठ गए। हादसे की सूचना के बाद विधायक अशोक लाहोटी भी जयपुरिया अस्पताल पहुंचे गए। विधायक और मृतक के परिजनहाईटेंशन लाइन हटाने और पांच लाख रुपए की मुआवजा राशि देने की मांग को लेकर प्रदर्शन शुरु कर दिया।

लाहोटी पर शव लाश पर राजनीति करने के आरोप लगाए

कांग्रेस प्रवक्ता अर्चना शर्मा ने अस्पताल पहुंच सांगानेर विधायक अशोक लाहोटी पर शव पर राजनीति करने के आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा कि अस्पताल में मृतक के परिजनों को कैप्चर करके अपने नारे लगवाना सांगानेर विधायक अशोक लाहोटी को शोभा नहीं देता। अर्चना ने कहा कि जब लाहोटी महापौर थे उस समय ही उस इलाके में हाइटेंशन लाइन को हटाने का प्रपोजल तैयार हो चुका था। इसके बावजूद भी लाइन को नहीं हटाया गया। साथ ही शर्मा ने कहा कि बीजेपी के विधायक लाश पर राजनीति करने पर अड़े रहे।

उधर बिना नाम लिए सरकार पर लगाए आरोप

कांग्रेस प्रवक्ता जब अस्पताल पहुंची तो विधायक अशोक लाहोटी ने बिना नाम लिए सरकार पर कई आरोप लगाए। लाहोटी ने भी अर्चना शर्मा पर एनजीओ के माध्यम से सरकार से करोड़ों रुपए लेने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि यदि एनजीओ है, तो एनजीओ की ओर से पांच लाख रुपए पीड़ित परिवार को दें। दलालों के माध्यम से सरकार बातचीत करना चाहती है।

बाहर नारेबाजी, अंदर मरीजों को परेशानी

अशोक लाहोटी के साथ धरने पर बैठे बीजेपी कार्यकर्ता और लोगों ने अस्पताल परिसर में नारेबाजी शुरू कर दी। अस्पताल में नारेबाजी से काफी शोर-शराबा हुआ, जिससे मरीजों को काफी परेशानी हुई। मरीजों का कहना है कि अस्पताल में इस तरह से राजनीतिकरण करना ठीक नहीं। पुलिस भी मूकदर्शक बनी रही।

यह था मामला

सीतारामनगर कच्ची बस्ती निवासी 45 वर्षीय रतन लाल रात करीब दस बजे अपने मकान की छत पर जा रहा था। इसी दौरान उसे जोरदार करंट लगा। उसके चिल्लाने की आवाज सुनकर बेटा दिनेश उसे बचाने के लिए पहुंचा तो उसे भी करंट लग गया। वहीं मकान में करंट दौडऩे से उसकी पत्नी संतरा देवी व बेटी मोनिका भी झुलस गई। चिल्लाने की आवाज सुनकर स्थानीय लोग जमा हो गए और सभी को बाहर निकाल कर अस्पताल पहुंचाया। अस्पताल में रतनलाल की मौत हो गई।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned