नेतृत्वविहीन नजर आया भाजपा का प्रदर्शन, ना पूनियां आए ना राघव, राजे गुट के नेताओं ने संभाली कमान

राज्य सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ बुधवार को जयपुर शहर भाजपा ने हल्ला बोला। बनीपार्क नगर निगम फायर कार्यालय के बाहर से हाथों में सरकार विरोधी तख्तियां और मुंह पर सरकार विरोधी नारे लगाते हुए पैदल मार्च कलेक्ट्री तक पहुंचा। कार्यक्रम नेतृत्वविहीन नजर आया।

By: Umesh Sharma

Published: 17 Mar 2021, 04:08 PM IST

जयपुर।

राज्य सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ बुधवार को जयपुर शहर भाजपा ने हल्ला बोला। बनीपार्क नगर निगम फायर कार्यालय के बाहर से हाथों में सरकार विरोधी तख्तियां और मुंह पर सरकार विरोधी नारे लगाते हुए पैदल मार्च कलेक्ट्री तक पहुंचा। जहां कलेक्टर को राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा गया। हालांकि कार्यक्रम नेतृत्वविहीन नजर आया। प्रदर्शन को नेतृत्व भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां को करना था, लेकिन विधानसभा में फोन टैपिंग जैसे महत्वपूर्ण मुद्दे पर चर्चा की वजह से पूनियां कार्यक्रम में नहीं आए, वहीं शहर अध्यक्ष राघव शर्मा भी बीमार होने की वजह से कार्यक्रम से दूर रहे। ऐसे में वसुंधरा राजे खेमे के नेता प्रदर्शन में हावी नजर आए। कार्यक्रम में उम्मीद से ज्यादा भीड़ जुटी और कोरोना गाइडलाइन की पालना नहीं हो पाई।

तय कार्यक्रम के अनुसार सुबह 10.30 बजे कार्यकर्ताओं का बनीपार्क नगर निगम फायर कार्यालय के बाहर जुटना शुरू हो गया। पहले पूनियां के कार्यक्रम में आने की सूचना थी, लेकिन विधानसभा की वजह से पूनियां नहीं आए। ऐसे में मौके पर मौजूद पूर्व प्रदेशाध्यक्ष अरुण चतुर्वेदी और पूर्व मंत्री राजपाल सिंह शेखावत ने कमान संभाली। इसके बाद पैदल मार्च शुरू हुआ, लेकिन कार्यकर्ताओं में आगे बढ़ने की होड़ मची रही। मार्च में साफ तौर पर नेतृत्व की कमी नजर आ रही थी। जयसिंह हाइवे होता हुआ मार्च कलेक्ट्री पहुंचा, जहां पहले से तैनात पुलिस ने दरवाजा बंद कर दिया।

पुलिस को करनी पड़ी मशक्कत

प्रदर्शनकारियों की भारी भीड़ को देखते हुए पुलिस ने गेट नं. 2 पर बेरिकेट्स लगा दिए, जिसे देख कार्यकर्ता भड़क गए। कार्यकर्ता बेरीकेड्स और दीवारों पर चढ़कर कलेट्रेट में घुसने कोशिश करते रहे। इन्हें रोकने के लिए पुलिस को भारी मशक्कत करनी पड़ी। इस दौरान वहां मौजूद पुलिस प्रशासन के अधिकारियों ने प्रदर्शनकारियों से समझाइश की। समझाइश के काफी देर बाद कार्यकर्ता बेरीकेट्स और दीवार से नीचे उतरे।

परनामी, लाहोटी, गुप्ता भी पहुंचे

कार्यक्रम के अंत में बिजली के बिल माफ करने, प्रदेश में बिगड़ती कानून व्यवस्था सहित अन्य मुद्दों को लेकर कलेक्टर को राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा गया। इस दौरान राजे गुट के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष अशोक परनामी, विधायक अशोक लाहोटी, पूर्व विधायक मोहन लाल गुप्ता भी ज्ञापन देने पहुंचे। इनके अलावा राष्ट्रीय महामंत्री अलका गुर्जर, महापौर सौम्या गुर्जर, उप महापौर पुनीत कर्णावट सहित कई नेता मौजूद रहे।

Umesh Sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned