पहले बिना जांच, अब जांच करवाकर ‘पॉजिटिव’ निकलीं Suman Sharma, जानें कैसे चला पूरा घटनाक्रम

राज्य महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष कोरोना पॉजिटिव, सुमन शर्मा और पति विनय शर्मा को रिपोर्ट ने माना संक्रमित, पहले बिना जांच करवाए ‘पॉजिटिव’ आ चुकीं हैं सुमन शर्मा, मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री पर साधा था निशाना, उठाया था कोरोना जांच में गडबडझाले का मामला, पहले कहा-‘ये क्या तमाशा है?’, अब कहा- ‘कमाल है’

 

By: nakul

Published: 25 Sep 2020, 10:28 AM IST

जयपुर।

राज्य महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष व भाजपा की वरिष्ठ नेत्री सुमन शर्मा भी कोरोना संक्रमण का शिकार हो गईं। कुछ दिन पहले शर्मा को बिना कोरोना जांच के ही चिकित्सा विभाग ने ‘पॉजिटिव’ करार दे दिया था जिसके बाद मामले ने तूल पकड़ लिया था। लेकिन अब जांच करवाने के बाद वे कोरोना संक्रमित निकल गई हैं।

‘नेगेटिव हो कर मिलती हूँ’
शर्मा ने सोशल मीडिया के ज़रिये खुद के संक्रमित होने की पुष्टि की। उन्होंने कहा कि कहा कि बुधवार को कोविड-19 की जांच करवाई थी, जिसकी रिपोर्ट गुरुवार को मिल है। रिपोर्ट में स्वास्थ्य जांच ‘पॉज़िटिव’ बताया गया है। उन्होंने ये भी कहा कि 10 सितम्बर को वे बिना टेस्ट के ही पॉज़िटिव बता दी गईं थीं। उन्होंने पिछले कुछ दिनों में संपर्क में लोगों से जांच करवाने की भी अपील की। साथ ही कहा, ‘नेगेटिव हो कर मिलती हूँ।'

जानकारी के अनुसार सुमन शर्मा के साथ ही उनके पति विनय शर्मा भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। फिलहाल दोनों ही होम क्वारंटाइन होते हुए चिकित्सकों की निगरानी में स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं।

चर्चा में रहा बिना जांच करवाए 'पॉजिटिव’ मामला
सुमन शर्मा को हाल ही में चिकित्सा विभाग ने बिना जांच करवाए कोरोना ‘पॉजिटिव’ करार दे दिया था। इसके बाद शर्मा और भाजपा पार्टी ने सरकार की कोरोना जांच व्यवस्था में गडबडझाले का मामला पुरजोर तरीके से उठाया था।

ये था मामला
दरअसल, पिछले दिनों मालवीय नगर में कोरोना जांच शिविर में शर्मा के परिवारजनों ने कोरोना जांच करवाई थी, लेकिन व्रत होने की वजह से शर्मा ने टेस्ट नहीं करवाया था। जब रिपोर्ट आई तो सभी हतप्रभ रह गए। परिवार के सभी सदस्यों की रिपोर्ट निगेटिव आई और टेस्ट नहीं करवाने वाली सुमन शर्मा की रिपोर्ट पॉजिटिव निकली। इसे लेकर शर्मा ने जांच पर सवाल उठाए।

कहा था- ‘ये क्या तमाशा हो रहा है’
बिना जांच के कोरोना पॉजिटिव बताये जाने पर शर्मा ने मुख्यमंत्री और चिकित्सा मंत्री को संबोधित करते हुए पूछा था कि ‘ये क्या तमाशा हो रहा है’। राजस्थान की सरकारी संस्थाओं पर विश्वास करे या नहीं। शर्मा ने जांच के नाम पर हो रहे गडबडझाले की जांच करवाने की मांग की थी।

nakul Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned