भाजपा का उपवास और 365 कदम का मार्च

राज्य सरकार के एक साल के कार्यकाल पर कांग्रेस जश्न की तैयारी में जुटी है,The Congress is preparing to celebrate the one-year term of the state government वहीं भाजपा सरकार की 365 दिन की विफलताओं को लेकर विरोध प्रदर्शन करने के साथ ही आरोप पत्र charge sheet जारी करेगी।

जयपुर
राज्य सरकार के एक साल के कार्यकाल पर कांग्रेस जश्न की तैयारी में जुटी है, The Congress is preparing to celebrate the one-year term of the state government वहीं भाजपा सरकार की 365 दिन की विफलताओं को लेकर विरोध प्रदर्शन करने के साथ ही आरोप पत्र charge sheet जारी करेगी।
भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया के अनुसार सरकार के एक वर्ष की पूर्व संध्या पर 16 दिसंबर को सभी जिलों में भाजपा कार्यकर्ता महात्मा गांधी Mahatma Gandhi तथा अंबेडकर Ambedkar की प्रतिमाओं के समक्ष तथा जहां ये प्रतिमाएं नहीं है, वहां शहीद स्मारक martyr memorials व अन्य महापुरुषों के स्मारक तथा सावर्जनिक स्थानों पर सांकेतिक उपवास रखेंगे। इसके अगले दिन यानि 17 दिसंबर को सरकार की 365 दिन की विफलताओं को उजागर करने के लिए पंचायत समिति Panchayat Committee स्तर पर आरोप पत्र जारी किए जाएंगे। इसके बाद कार्यकर्ता 365 मीटर तक मार्च करके सरकार के विरोध में आरोप पत्र के साथ जिला प्रशासन District administration के माध्यम से ज्ञापन सौंपेंगे।

भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं विधानसभा में उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ Rajendra Rathore , senior BJP leader के अनुसार सरकार का एक साल का कालखंड प्रदेश को बदहाली की स्थिति में पहुंचाने का रहा है। इस समयावधि में प्रदेश में लोग दहशतगर्दी में जिए है, विकास का पहिया रूक गया है। प्रदेश में आर्थिक आपातकाल जैसे हालात पैदा होगए हैं।

राठौड ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के कार्यकाल में राजस्थान भ्रष्टाचार में पहले, महिला अपराधों में तीसरे और बाल तस्करी जैसे अपराधों में देश में चौथे नंबर पर आ पहुंच गया है। उन्होंने सीएम अशोक गहलोत पर हमला बोलते कहा कि सीएम 365 में से 200 दिन तक अपनी कुर्सी बचाने के लिए दिल्ली दरबार में हाजिरी लगाते रहे जिससे प्रदेश का कामकाज ठप सा पड़ा रहा।
इससे पहले भामाशाह योजना को 31 मार्च से बंद करने के विषय पर भाजपा प्रदेशाध्यक्ष पूनिया ने कहा कि सरकार अभी तक योजनाओं के टाइप बदलने का ही काम कर रही है। गौरव पथ हो या अन्नापूर्णा। उन्होंने कहा कि भामाशाह पर सरकार की आंख है, क्यों कि प्रदेश के लाखों लोगों को उसका लाभ मिल रहा था। सरकार तुष्टिकरण के लिए नागरिक संशोधन जैसे बिल का विरोध कर रही है।

Show More
Prakash Kumawat Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned