भाजपा का सोशल मीडिया पर हैशटैग #Dictator_Gehlot अभियान, नेशनल ट्रेंड में छाया

भाजपा का सोशल मीडिया पर बुधवार को चलाया गया हैशटैग #Dictator_Gehlot अभियान नेशनल ट्रेंड में रहा। सरकार की तानाशाही, सम्पूर्ण किसान कर्जमाफी, नई भर्तियों को लेकर किसानों व युवाओं से की जा रही वादाखिलाफी जैसे मुद्दों को लेकर चलाए गए अभियान के समर्थन में 30 हजार से अधिक ट्वीट हुए।

By: Umesh Sharma

Published: 09 Jun 2021, 08:04 PM IST

जयपुर।

भाजपा का सोशल मीडिया पर बुधवार को चलाया गया हैशटैग #Dictator_Gehlot अभियान नेशनल ट्रेंड में रहा। सरकार की तानाशाही, सम्पूर्ण किसान कर्जमाफी, नई भर्तियों को लेकर किसानों व युवाओं से की जा रही वादाखिलाफी जैसे मुद्दों को लेकर चलाए गए अभियान के समर्थन में 30 हजार से अधिक ट्वीट हुए।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनियां, प्रदेश संगठन महामंत्री चंद्रशेखर, नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया, उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़, केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत, अर्जुनराम मेघवाल, कैलाश चौधरी, राष्ट्रीय मंत्री अलका गुर्जर, राष्ट्रीय प्रवक्ता राज्यवर्धन राठौड़, प्रदेश मुख्य प्रवक्ता रामलाल शर्मा सहित प्रमुख नेताओं, सांसदों, विधायकों, पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं एवं आमजन ने ट्वीट कर गहलोत सरकार की तानाशाही के खिलाफ मोर्चा खोला। पूनियां ने ट्वीट किया कि जून 1975 को जब देश में आपातकाल लगा तो हमारे मुख्यमंत्री जो उस समय राजनीति में आए ही थे और स्वयं को गांधीवादी कहते थे, उन्होंने इसका समर्थन किया, जब घुट्टी ही तानाशाही की पी हो तो, गुण भी ऐसे ही होंगे।

कार्यकर्ताओं को अंधेरे में रखती है सरकार

उन्होंने कहा कि जो राज्य सरकार अपने समस्त आदेश रात के अंधेरे में निकालती हो, अपनी जनता, जनप्रतिनिधि और कार्यकर्ताओं को अंधेरे में रखती हो। लोकतांत्रिक तरीके से चुने गए लोगों को आधी रात में हटा देती हो, उसका मुखिया क्या होगा। लोकतंत्र को अपमानित करना ही, कांग्रेस की विचारधारा है। गुलाबचंद कटारिया ने ट्वीट कर कहा कि, जनता द्वारा चुनी हुई महापौर को इस तरीके से अपमानित कर प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने तानाशाही एवं द्वेष की घृणित राजनीति की है।

Umesh Sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned