आंदोलन की बिसात पर पंचायत चुनाव में उतरेगी भाजपा

निकाय चुनाव में कांग्रेस से करारी हार झेल चुकी भाजपा अब पंचायत चुनाव में कांग्रेस से दो दो हाथ करने को तैयार है। इसके लिए भाजपा ने आंदोलन की बिसात पर चुनावी जंग जीतने की रणनीति तैयार की है। पार्टी गुरुवार से पंचायत स्तर पर बिजली, कर्जमाफी, टोल वसूली पुन: शुरू करने जैसे कई मुद्दों को लेकर आंदोलन शुरु करेगी।

जयपुर
निकाय चुनाव में कांग्रेस से करारी हार झेल चुकी भाजपा अब पंचायत चुनाव में कांग्रेस से दो दो हाथ करने को तैयार है। इसके लिए भाजपा ने आंदोलन की बिसात पर चुनावी जंग जीतने की रणनीति तैयार की है। पार्टी गुरुवार से पंचायत स्तर पर बिजली, कर्जमाफी, टोल वसूली पुन: शुरू करने जैसे कई मुद्दों को लेकर आंदोलन शुरु करेगी।
चुनाव से पहले भाजपा राज्य की कांग्रेस सरकार के किसान और जनविरोधी निर्णयों के विरोध में आंदोलन के साथ ही जनजागरण अभियान भी चलाएगी। यह अभियान पंचायत के साथ ही गांव—ढाणी तक चलाया जाएगा। आंदोलन की तैयारी के लिए भाजपा मुख्यालय में बुधवार को सभी मोर्चा प्रकोष्ठों के अध्यक्ष और प्रमुख पदाधिकारियों की एक संयुक्त बैठक बुलाई गई। इस बैठक में पार्टी के राष्ट्रीय संगठन मंत्री वी सतीश, प्रदेश संगठन मंत्री चंद्रशेखर भाजपा के प्रदेश महामंत्री भजनलाल ने पदाधिकारियों से चर्चा करने के साथ ही आंदोलन को गरमाने के साथ ही चुनावी टिप्स भी दिए।
इस दौरान मोर्चा प्रकोष्ठों के पदाधिकारियों से सुझाव भी मांगे और उन पर चर्चा की गई। यह भी बताया कि निकाय चुनाव में कांग्रेस ने जिस तरह से जाति—धर्म के नाम पर वार्डों को अपने के लिए सीमांकन कराया था, ठीक वैसे ही हालात पंचायत चुनाव में देखने को मिल सकते हैं। इससे निराश होने के बजाय बूथ स्तर पर कार्यकर्ताओं में जोश भरने के लिए अभी से आंदोलन की शुरूआत कर दी जाए। जैसे जैसे आंदोलन परवान चढेगा कार्यकर्ताओं का जोश भी बढ़ता जाएगा।
इस आंदोलन में युवा मोर्चा , महिला मोर्चा , एससी मोर्चा और एसटी मोर्चा अलग अलग मुद्दों को लेकर आंदोलन करेंगे। जिससे सभी वर्गों के लोगों का चुनाव में भाजपा का साथ मिल सके।
भाजपा के महामंत्री भजन लाल के अनुसार पार्टी ने पंचायत चुनाव की तैयारी के लिए कमर कस ली है। इसके लिए आंदोलन कल से शुरूआत होगी। उन्होंने कहा कि पार्टी का कार्यकर्ता पूरे जोश के साथ चुनाव में उतरने को तैयार है। कांग्रेस ने जिस तरह से निकाय चुनाव में षडयंत्र करके सत्ता के दुरुपयोग के सहारे निकायों पर कब्जा किया था, वैसे प्रयासों को इस बार भाजपा कार्यकर्ता सफल नहीं होने देंगे।

Prakash Kumawat
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned