भाजपा में होगी बागियों की घर वापसी !

neha soni | Publish: Feb, 22 2019 02:19:02 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

बागी हुए नेताओं को एक बार फिर 'भाजपा परिवार' में शामिल करने की कवायद

जयपुर।

विधानसभा चुनाव में हार के बाद अब भाजपा लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को शिकस्त देने की तैयारियों में जुटी हुई है। लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा जहां कई अभियान चला रही है वहीं 'मेरा परिवार - भाजपा परिवार' में अब बागी हुए नेताओं को एक बार फिर 'भाजपा परिवार' में शामिल करने की कवायद में जुटती नजर आ रही है।
पार्टी की पहली नजर ऐसे दमदार बागियों पर है, जिन्होंने विधानसभा चुनावों में पार्टी छोडकऱ अपने दम पर बड़ी संख्या में वोट लिए और दूसरे या तीसरे नम्बर पर रहे। चुनावों से पहले ही कुछ नेता तो पार्टी छोड़ गए थे और कुछ टिकट नहीं मिलने से नाराज होकर साथ चले गए।

बगावत कर बाहर हुए थे ये नेता
सुरेन्द्र गोयल-जैतारण, राजकुमार रिणवां-रतनगढ़, हेमसिंह भड़ाना-थानागाजी, धनसिंह रावत-बांसवाड़ा, सुरेश टांक-किशनगढ़, ओम प्रकाश हुड़ला-महुवा, देवेन्द्र कटारा-डूंगरपुर, लक्ष्मीनारायण दवे-मारवाड़ जंक्शन, नंदलाल बंशीवाल-दौसा, नवनीत लाल नीनामा-घाटोल, जीवाराम चौधरी-सांचौर, बालचंद अहीर-रामगंजमंडी, राधेश्याम गंगानगर-श्रीगंगानगर, प्रहलाद राय टाक-श्रीगंगानगर, कुलदीप धनखड़-विराटनगर, अनिता कटारा-सागवाड़ा, किसनाराम नाई-श्रीडूंगरगढ़, दीनदयाल कुमावत-फुलेरा, देवी सिंह शेखावत-बानसूर, निशिथ(बबलू) चौधरी-झुंझुनूं, सुखराम कोली-बसेड़ी, ओम नरानीवाल-भीलवाड़ा, उदयलाल भडाना-माण्डल।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned