और इस मां—बेटी ने ब्लैकमेल कर व्यापारी से ले लिए लाखों

हनी ट्रेप में फंसा कर व्यापारी से लाखों रुपए, फ्लैट व गाडिय़ां ठगी

By: Ankita Sharma

Published: 16 May 2018, 04:37 PM IST

 

- परेशान व्यापारी ने दर्ज करवाया मामला, पुलिस कर रही आरोपित मां-बेटी की तलाश

जयपुर। बातों में फंसाकर ब्लैकमेल करने और साइबर क्राइम के मामलों में जयपुर लगातार बदनाम होता जा रहा है। नेशनल क्राइम ब्यूरो के अनुसार साल 2016 में जयपुर में साइबर क्राइम के 519 मामले दर्ज हुए हैं, जो भारत के अन्य शहरों से कहीं ज्यादा है। हालात ये हैं कि ऐसे मामलों में राजस्थान देश में चौथे नंबर पर है। मोबाइल फोन के जरिए बैंक खातों की जानकारी लेना और िफर खाते से रुपए निकालने के लगातार मामले सामने आ रहे हैं। वहीं एप्स के जरिए भी लोगों को फंसाने के मामले सामने आ रहे हैं। हाल ही में जयपुर में प्रिया सेठ ने झोटवाडा निवासी दुष्यंत को टिंडर एप के जरिए झांसे में लेकर उसे ब्लैकमेल किया। बाद में मामला खुलने के बाद प्रिया और उसके साथियों ने मिलकर दुष्यंत का मर्डर कर दिया था। इस घटना से पहले भी जयपुर में कई ब्लैकमेलिंग गिरोहों का खेल सामने आ चुका है। अब एक ऐसा ही मामला शहर में एक बार िफर से सामने आया है।

ब्रह्मपुरी पुलिस के अनुसार गोविंद नगर पश्चिम निवासी एक व्यापारी ने मामला दर्ज करवाया कि कई सालों पहले उसकी पत्नी की मौत हो गई थी। इसके बाद पुष्पादेवी ने उसकी जान पहचान हुई। पुष्पादेवी विधवा थी। जान पहचान दोस्ती में बदल गई। इसके बाद पुष्पादेवी उसके साथ मकान में रहने लगी। कुछ दिनों बाद पुष्पा अपनी बेटी को भी वहां पर ले आई। कुछ समय सामान्य गुजरा। इसके बाद पुष्पा ने उसे ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया। रेप के झूठे मामले में फंसाने की धमकी देकर आरोपितों ने उससे एक फ्लैट व कुछ गाडिय़ां अपने नाम करवा लीं। इसके बाद पुष्पा बेटी के साथ मिलकर लगातार उससे रुपए ठगने लगी। आरोप है कि पीडि़त से पांच लाख से ज्यादा रुपए ठगे गए। मां-बेटी की धमकियों से परेशान होकर पीडि़त ने पुलिस थाने में मामला दर्ज करवाया। जांच अधिकारी एसआई हरपाल ने बताया कि आरोपित महिला व उसकी बेटी की भी तलाश की जा रही है।

 

Ankita Sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned