14 साल का विशाल दुनिया से जाते-जाते दे गया 4 लोगों को जिंदगी

26 जनवरी को सड़क हादसे में कानोता निवासी विशाल हुआ था घायल, 31 जनवरी को डॉक्टरों ने किया ब्रेन डेड, घरवालों ने अंगदान कर बनाई मिसाल, अब विशाल का दिल चेन्नई में धड़केगा, लीवर-किडनी ट्रांसप्लांट होगा जयपुर में

By: pushpendra shekhawat

Published: 02 Feb 2021, 07:44 PM IST

जयपुर। बस्सी उपखण्ड के बैनाड़ा गांव निवासी एक मजदूर के 14 वर्षीय बेटे विशाल की गत दिनों हुई मौत के बाद अंगदान कर चार लोगों को नई जिंदगी दे गया। जानकारी के अनुसार परिवार के सदस्यों ने एक मिसाल पेश करते हुए विशाल के अंगों को दान करने का फैसला किया। जिससे अन्य लोगों को जिंदगी मिल सके।

ब्रेन डेड होने के बाद विशाल की दोनों किडनियों को सवाई मानसिंह चिकित्सालय, लीवर को महात्मा गांधी अस्पताल जयपुर में प्रत्यारोपित किया गया। वहीं हार्ट और लंग्स दोनों ही चेन्नई के अपोलो हॉस्पिटल में भेजा गया। जहां 46 साल की महिला को प्रत्यारोपित किया जाएगा।

पिता ईश्वर लाल बैरवा ने बताया कि विशाल 26 जनवरी को जयपुर आगरा रोड़ पर अपने तीन दोस्तों के साथ बाइक पर सवार होकर जा रहा था। उसी दौरान आगे चल रही बस के ड्राइवर ने अचानक ब्रेक लगाकर बस रोक दी। जिससे बाइक असंतुलित होकर बस से टकरा गई और हादसे में विशाल के सिर व अन्य जगह गंभीर चोटे आ गई।

उस दौरान विशाल को घायल अवस्था में जयपुर के सवाई मानसिंह अस्पताल में भर्ती करवाया गया। जहां 31 जनवरी को हालत नाजुक होने के कारण स्पेशलिस्ट चिकित्सकों द्वारा परीक्षण किए गए और विशाल को ब्रेन डेड घोषित कर दिया गया। लेकिन परिजनों की दरियादिली ने विशाल के अंगों को दान कर चार लोगों को नई जिंदगी दे गया और एक मिशाल बना गया।

Show More
pushpendra shekhawat Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned