सेवा को अपने आचरण और व्यवहार में लाएं युवा वर्ग . राज्यपाल

राज्यपाल मिश्र ने किया एनएसएस स्वयंसेवकों से संवाद

गणतंत्र दिवस परेड में भाग लेकर लौटे राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयंसेवक

By: Rakhi Hajela

Updated: 23 Feb 2021, 04:51 PM IST

Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

राज्यपाल कलराज मिश्र (Governor Kalraj Mishra) ने कहा है कि युवा वर्ग सेवा को अपने आचरण और व्यवहार में लाएं। उन्होंने राष्ट्रीय सेवा योजना (National service Scheme)के विद्यार्थियों द्वारा किए गए सेवा कार्यों की सराहना की तथा दूसरों से भी समाज के लिए कार्य करने का आह्वान किया। राज्यपाल मिश्र (Governor Kalraj Mishra) गणतंत्र दिवस परेड(Republic day parade) में भाग लेकर लौटे राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयंसेवकों से मंगलवार को यहां राजभवन में संवाद कर रहे थे। उन्होंने कहा कि आपदा की घड़ी में स्वयंसेवी संगठनों और इनसे जुड़े व्यक्तियों की समर्पण एवं सेवा भावना की सही परख होती है। उन्होंने कहा कि एनएसएस स्वयंसेवकों ने कोविड.19 वैश्विक महामारी के दौर में अपने सेवा कार्यों के माध्यम से आमजन को स्वास्थ्य प्रोटोकॉल की पालना करने के लिए प्रेरित किया, जिससे उनमें इस महामारी का सामना करने की हिम्मत,आत्मविश्वास और आत्मबल में वृद्धि हुई। उन्होंने एनएसएस स्वयंसेवकों का आह्वान किया कि वे पूरी भावना के साथ संकल्पबद्ध होकर सेवा कार्यों में प्रवृत्त हों। उन्होंने एनएसएस स्वयंसेवकों तथा राष्ट्रपति से एनएसएस राष्ट्रीय पुरस्कार प्राप्त करने वाले स्वयंसेवकों एवं अधिकारियों का उत्साहवर्धन करते हुए उन्हें उज्ज्वल भविष्य की शुभकामनाएं दी। इस अवसर पर एनएसएस के क्षेत्रीय निदेशक एस पी भटनागर ने संगठन के 2 लाख 5 हजार से अधिक स्वयंसेवकों द्वारा 2100 से अधिक गांव.ढाणियों में जाकर इस वर्ष किए गए पौधरोपण, रक्तदान, पल्स पोलियो टीकाकरण और स्वास्थ्य शिविरों में सहयोग, श्रमदान तथा कोविड.19 की रोकथाम एवं बचाव के लिए चलाई गई जागरुकता गतिविधियों की जानकारी दी। राष्ट्रीय पुरस्कार प्राप्त बुलबुल पाठक और गणतंत्र दिवस परेड में भाग लेकर लौटे देव कुमावत ने एनएसएस से जुड़े अपने अनुभव साझा किए।

republic day parade

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned