ब्रिटेन: महारानी एलिजाबेथ महल छोड़ घर रवाना

दुनियाभर में फैले कोरोना वायरस के बीच गुरुवार को ब्रिटिश महारानी एलिजाबेथ ने सामाजिक दूरी के लिए बकिंघम पैलेस से विंडसर कैसल रवाना हो गईं। वह इस साल सामान्य रूप से एक सप्ताह पहले अपने बर्कशायर स्थित घर जा रही हैं, जहां उनके ईस्टर के बाद तक रहने की उम्मीद है।

By: dhirya

Updated: 19 Mar 2020, 11:26 PM IST

लंदन. दुनियाभर में फैले कोरोना वायरस के बीच गुरुवार को ब्रिटिश महारानी एलिजाबेथ ने सामाजिक दूरी के लिए बकिंघम पैलेस से विंडसर कैसल रवाना हो गईं। वह इस साल सामान्य रूप से एक सप्ताह पहले अपने बर्कशायर स्थित घर जा रही हैं, जहां उनके ईस्टर के बाद तक रहने की उम्मीद है। कोरोना से सबसे ज्यादा खतरा बुजुर्गों और बच्चों को है। ब्रिटेन में अब तक संक्रमण के २,६२६ केस दर्ज पो चुके हैं, जिनमें से 108 की मौत हो चुकी है।
10,000 कैदियों की सजा माफ करेगा ईरान
चीन और इटली के बाद तीसरा सबसे संक्रमित देश ईरान में 24 घंटे में 149 लोगों की मौत के साथ मृतकों का आंकड़ा 1,284 पहुुंच गया है। करीब 18,407 संक्रमित है। ऐसे में ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खामनेई शुक्रवार को नए साल के मौके पर राजनीतिक कैदियों समेत 10,000 कैदियों की सजा माफ करने का फैसला किया है। जिन्हें माफ किया जा रहा है, वे उन 85,000 कैदियों में से ही होंगे, जिन्हें कोरोना के चलते कुछ सप्ताह के लिए रिहा किया गया है। ईरान न्यायिक प्रणाली के प्रवक्ता गोलम हुसैन इस्माइली ने बताया कि सिर्फ उन राजनीतिक कैदियों की सजा माफ की जाएगी जिनकी जेल अवधि 5 साल से कम बची होगी। इधर ईरान से सटे पाकिस्तान में हाहाकार मच गया है। यहां 77 नए मामलों के साथ कुल संक्रमित लोगों की संख्या 384 पहुंच गई है। वायरस से दो की मौत हो चुकी है।
दूसरे विश्व युद्ध के बाद सबसे बड़ी चुनौती
पूरे दुनियाभर में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या गुरुवार को 9,000 के पार पहुंच गई। इनमें से यूरोप में मरने वाले लोगों की संख्या 4,134, जबकि एशिया में 3,416 है। जर्मनी की चांसलर अंगीला मेर्कल ने कोरोना वायरस महामारी के बीच 15 साल में पहली बार टीवी पर लोगों को संबोधित किया। उन्होंने कहा, स्थिति बहुत गंभीर है। देश द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद की सबसे बड़ी चुनौती का सामना कर रहा है। उन्होंने सुपरमार्केट के कर्मचारियों की तारीफ करते हुए कहा, अपने साथी नागरिकों की मदद करने के लिए आपका शुक्रिया।
रूस: कोरोना से पहली मौत
मॉस्को के एक अस्पताल में 79 वर्षीय महिला की कोरोना वायरस के संक्रमण से मौत हो गई है। रूस में वायरस से यह पहली मौत है। महिला के संक्रमित होने का पता शुक्रवार को चला था और इसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बुजुर्ग महिला में न्यूमोनिया के लक्षण थे। साथ ही वह टाइप-2 डायबिटीज और दिल की बीमारी जैसी दूसरी स्वास्थ्य समस्याओं का सामना कर रही थीं।

dhirya Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned