बुध पुष्य नक्षत्र पर प्रथम पूज्य का हुआ पंचामृत अभिषेक, भक्तों ने किए ऑनलाइन दर्शन

bhudh pushya nakshtra 2020: आषाढ़ शुक्ल तृतीया बुधवार को पुष्य नक्षत्र के मौके पर शहर गणेश मंदिरों में सुबह भगवान गणेश का पंचामृत अभिषेक किया गया। लॉकडाउन के कारण मंदिरों में भक्तों का प्रवेश वर्जित होने से केवल महंत और पुजारियों ने अभिषेक के बाद पूजा अर्चना कर सुख समृद्धि की कामना की। वहीं भक्तों को ऑनलाइन दर्शन कराए गए। शाम को मंदिरों में फूल बंगला की झांकियां सजाई गई।

By: Devendra Singh

Updated: 24 Jun 2020, 10:35 PM IST

जयपुर। आषाढ़ शुक्ल तृतीया बुधवार को पुष्य नक्षत्र ( budh pushya nakshtra ) के मौके पर शहर गणेश मंदिरों ( ganesh temples ) में सुबह भगवान गणेश का पंचामृत अभिषेक किया गया। लॉकडाउन के कारण मंदिरों में भक्तों का प्रवेश वर्जित होने से केवल महंत और पुजारियों ने अभिषेक के बाद पूजा अर्चना कर सुख समृद्धि की कामना की। वहीं भक्तों को ऑनलाइन दर्शन ( online darshan ) कराए गए। शाम को मंदिरों में फूल बंगला की झांकियां सजाई गई। मोती डूंगरी गणेशजी मंदिर में महंत कैलाश शर्मा के सान्निध्य में सुबह पंचामृत अभिषेक किया गया। इसके बाद महास्नान करवाया गया। गणपति सहस्त्रनाम के पाठ के बीच मोदक अर्पित किए गए। शाम को नवीन पोशाक धारण करवाकर फूल बंगले में विराजमान किया गया। ब्रह्मपुरी माउंट रोड स्थित नहर के गणेशजी मंदिर में महंत जय शर्मा के सान्निध्य में गजानन के पंचामृत से अभिषेक कर जल से अभिषेक करवाया गया। इसके बाद नवीन पोशाक धारण करवाई गई। बड़ी चौपड़ स्थित ध्वजाधीश गणेश मंदिर में पंचामृत अभिषेक हुआ। गणेशजी का अभिषेक कर विशेष शृंगार किया गया।

सजाई जलविहार की झांकी

चांदपोल स्थित परकोटे वाले गणेश मंदिर मे मंदिर महंत कैलाश चन्द शर्मा के सान्निध्य में सुबह विधिवत प्रथम पूज्य का पंचामृत अभिषेक किया गया। महास्नान के बाद गणपति को नवीन पोशाक धारण करा शृंगार किया गया। गणपति स्त्रोत अष्टोत्तरशतनाम के पाठ किए और मोदकों का भोग अर्पित किया गया। अमित शर्मा ने बताया कि दोपहर बाद गणेश जी के फूल बंगला व जल विहार की झांकी सजाई गई। भक्तों को सोशल मीडिया के माध्यम से दर्शन कराए गए। सुख—समृद्धि की कामना की गई। गलता गेट स्थित गीता गायत्री मंदिर में राजकुमार शर्मा, बंगाली बाबा आश्रम गणेश मंदिर में पं. जगदीश शर्मा, सूरजपोल स्थित श्वेत सिद्धी विनायक गणेश मंदिर में महंत मोहन लाल पांडे के सान्निध्य में गणपति का अभिषेक किया गया।

Devendra Singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned