नेताजी क्वारंटीन के लिए दे रहे बंगला

बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी ने कहा सरकार को
बोले: इलाज के लिए मेरा बंगला ले सकती है सरकार

देश में कोरोना वायरस के फैलते प्रकोप के बीच आमजन, नेता, अधिकारी, कर्मचारी अपने—अपने स्तर पर सहायता का प्रयास कर रहे हैं। राजस्थान में इस संबंध में बनाए गए कोष में करीब 23 करोड रुपए से ज्यादा की सहायता राशि अब तक जमा हो चुकी है। इसमें मंदिर व अन्य संस्थान भी सहायता की राशि दे रहे हैं। ये बात थी रुपए से मदद की लेकिन बिहार के एक नेता ने तो जगह कम पड़ने पर मरीजो को रखने के लिए अपना बंगला ही सरकार को देने की बात कही है।
मामला है बिहार के पूर्व उप-मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल नेता तेजस्वी यादव का जिन्होंने ये बड़ी पहल की है। कोरोना वायरस के प्रकोप को देखते हुए उन्होंने कहा है कि अगर सरकार चाहे तो कोरोना से लड़ने में नेता प्रतिपक्ष के नाते आवंटित आवास का आइसोलेशन, जांच केंद्र या क्वारनटीन के लिए इस्तेमाल कर सकती है। तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री राहत कोष में एक माह की सैलरी देने का भी ऐलान किया है।
तेजस्वी यादव ने कहा, इस कठिन घड़ी में सभी सामर्थ्यवान लोग ज़िम्मेदारी से अपना-अपना कर्तव्य निभाएं। उन्होंने कहा कि साथी बिहारवासियों के जीवन सुरक्षा का ज़िम्मा लें, जितना बन सके उतना करें। मास्क, हैंड सैनिटाइजर और ज़रूरी वस्तुओं की कालाबाज़ारी न करें। तेजस्वी यादव ने अपनी अपील में कहा, कोरोना वायरस से लड़ेंगे, मिलकर उसे हराएंगे, बिहार को सुरक्षित बनाएंगे। गौरतलब है कि कोरोना वायरस बिहार में पैर पसारने लगा है और पिछले रविवार को इससे पहली मौत हो चुकी है। पटना के एम्स में कोरोना मरीज की मौत हुई थी, बताया जा रहा है कि 38 साल का शख्स कतर से आया था। मौत उसकी शनिवार सुबह हुई, लेकिन मौत के बाद शाम में रिपोर्ट आई जिसमें वह पॉजिटिव पाया गया।
पटना में मरीज की मौत पर तेजस्वी यादव ने कहा, बिहार में कोरोना वायरस के फैलाव और उसके चलते हुई मृत्यु दुखद है। समय आ गया है कि हम सभी को कोरोना के खिलाफ लड़ाई तेज करनी होगी। सरकार को लापरवाही त्याग कर त्वरित एक्शन लेने होंगे। इस लड़ाई में हम सरकार का हरसंभव मदद करने को तैयार हैं। तेजस्वी यादव ने आगे लिखा, इसी कड़ी में नेता प्रतिपक्ष होने के नाते जो सरकारी आवास 1, पोलो रोड, मुझे आवंटित है, मैं चाहूंगा कि उस आवास का सदुपयोग क्वारनटीन, जांच केंद्र और अधिक आइसोलेशन वार्ड और बिस्तरों की संख्या बढ़ाने या इस बीमारी से लड़ने के लिए अन्य किसी रूप में हो सके।

Sharad Sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned