राज्य की थोक मंडियों में 30 मार्च से कारोबार शुरू होगा

जयपुर। राजस्थान की समस्त थोक मंडियों ( wholesale markets ) में 30 मार्च से क्रय विक्रय प्रारंभ हो जाएगा। राजस्थान खाद्य पदार्थ व्यापार संघ ( Rajasthan Foods Trade Association ) के चेयरमैन बाबूलाल गुप्ता ने यह जानकारी गुरुवार को जारी एक प्रैस विज्ञप्ति में दी। उन्होंने कहा कि सबसे पहले राज्य सरकार 27 मार्च को यानी शुक्रवार को मंडी परिसरों ( mandi premises ) की दुकानों गोदामों ( warehouses ) एवं बरामदों को सेनिटाइज ( sanitize ) कराए। इसके बाद 28 मार्च को मंडी व्यापारियोंए मुनीमों आदि के आवश्यक प्र

बाबूलाल गुप्ता ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से आग्रह किया कि मंडी प्रशासन मंडी के भीतर प्रवेश करने वालों की पुख्ता जांच करवाए तथा हाथ धुलवाकर सेनिटाइज कर मंडी में प्रवेश करवाएं। गुप्ता ने कहा कि मंडी सचिव एवं जिला प्रशासन मिलकर सोशल डिस्टेंसिंग सुनिश्चित करें। यदि मंडी स्टाफ इसमें कोताही बरतता है तो सीधे मंडी निदेशक कार्यालय में शिकायत सैल बनवाई जावे तथा पुलिस जाप्ते की भी माकूल व्यवस्था की जावे। चेयरमैन गुप्ता ने बताया कि राज्य सरकार ने खाद्य पदार्थ व्यापारियों से आवश्यक खाद्य सामग्री की आपूर्ति बनाए रखने के लिए सहयोग की अपील की है। गुप्ता के अनुसार प्रदेश का खाद्य पदार्थ व्यापारी इस महामारी का सामना करने के लिए हर तरह से कटिबद्ध है। राज्य की मंडियों को खोलने से जरूरी खाद्य सामग्री की आपूर्ति बरकरार रहेगी। ऐसा हम विश्वास दिलाते हैं। हालांकि आम जनता की सुविधा को ध्यान में रखते हुए सप्लाई लाइन को जारी रखने के लिए तेल मिलेंए दाल मिलें तथा आटा मिलों का उत्पादन पहले से ही जारी रखा हुआ है। संघ ने सरकार से अपेक्षा की है कि आटा मिलों को एफसीआई से गेहूं दिलाया जाए। दाल मिल व तेल मिलों को नेफैड से दलहन व तिलहन की भी व्यवस्था की जावे।

Narendra Kumar Solanki Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned