उप चुनाव विधानसभा चुनाव का सेमीफाइनल, मगर भाजपा ने ये क्या किया...

प्रदेश की सहाड़ा, राजसमंद, सुजानगढ़ और वल्लभनगर सीटों पर उप चुनाव होना है। दोनों ही पार्टियां इन चुनाव में जीत के लिए जीजान से जुटी है। भाजपा ने भी इन सीटों पर पर्यवेक्षक लगा दिए है, मगर ज्यादातर उन नेताओं को पर्यवेक्षक का काम सौंपा गया है, जो निकाय चुनाव में भाजपा को जीत नहीं दिला पाए थे।

By: Umesh Sharma

Published: 17 Feb 2021, 05:53 PM IST

जयपुर।

प्रदेश की सहाड़ा, राजसमंद, सुजानगढ़ और वल्लभनगर सीटों पर उप चुनाव होना है। दोनों ही पार्टियां इन चुनाव में जीत के लिए जीजान से जुटी है। एक तरह से इन चुनावों को 2023 के विधानसभा चुनाव से पहले का सेमीफाइनल माना जा रहा है। खुद भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने राजस्थान इकाई को इस सीटों पर जीत का टास्क दिया है। भाजपा ने भी इन सीटों पर पर्यवेक्षक लगा दिए है, मगर ज्यादातर उन नेताओं को पर्यवेक्षक का काम सौंपा गया है, जो निकाय चुनाव में भाजपा को जीत नहीं दिला पाए थे। ऐसे में सवाल उठता है कि क्या भाजपा के पास अनुभवी नेताओं की कमी है ? क्यों बार-बार गिने-चुने चार-पांच नेताओं पर पार्टी भरोसा जता रही है ?

भाजपा ने मदन दिलावर को सहाड़ा का पर्यवेक्षक बनाया है। उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ को भी पर्यवेक्षक की जिम्मेदारी दी गई है। पंचायत चुनाव में राजसमंद में भाजपा ने एकतरफा जीत दर्ज की थी, मगर निकाय चुनाव में भाजपा को हार का सामना करना पड़ा था। निकाय चुनाव में राजसमंद नगर परिषद में चुनाव प्रभारी की जिम्मेदारी दिलावर के पास ही थी। इसी तरह राजेंद्र राठौड़ के गृह जिले चूरू में पिछले दिनों एक नगर परिषद सहित 8 निकायों में चुनाव हुए थे, जिनमें से 5 निकायों में भाजपा को हार का मुंह देखना पड़ा, जबकि पूर्व में 8 में से 6 निकाय भाजपा के कब्जे में थे।

कटारिया के गृहजिले में भी हारी थी पार्टी

नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया को सुजानगढ़ विधानसभा सीट पर चुनाव पर्यवेक्षक जिम्मेदारी सौंपी गई है। निकाय चुनाव में उदयपुर जिले की 3 नगर पालिकाओं में से 2 में भाजपा को हार का मुंह देखना पड़ा था। सांसद सीपी जोशी के संसदीय क्षेत्र चित्तौड़गढ़ में भाजपा को 3 नगरपालिकाओं में से 2 में हार का मुंह देखना पड़ा था। जोशी को भी कटारिया के साथ सुजानगढ़ में बतौर चुनाव पर्यवेक्षक लगाया गया है।

बीकानेर में हारे, अब वल्लभनगर की जिम्मेदारी

केंद्रीय मंत्री और बीकानेर सांसद अर्जुन राम मेघवाल को उपचुनाव के लिए उदयपुर के वल्लभनगर विधानसभा सीट पर चुनाव पर्यवेक्षक लगाया गया है। पिछले दिनों उनके गृहजिले बीकानेर में 3 नगर पालिकाओं में से दो में बीजेपी को हार का मुंह देखना पड़ा। केवल श्रीडूंगरगढ़ नगर पालिका में ही बीजेपी को जीत मिल पाई थी, जबकि नोखा और देशनोक में भाजपा की हार हुई।

Umesh Sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned