उप चुनाव के वोट प्रतिशत में उलझी भाजपा-कांग्रेस, जीत-हार को लेकर संशय बरकरार !

प्रदेश की सहाड़ा, सुजानगढ़ और राजसमंद सीट पर मतदान के बाद कांग्रेस और भाजपा दोनों ही पार्टियां मतदान प्रतिशत में उलझकर रह गई हैं। भले ही दोनों ही तरफ से तीनों सीट पर जीत का दावा किया जा रहा हो, लेकिन मतदान प्रतिशत के आधार पर दोनों पार्टियां उलझन में हैं कि जनता ने किसको चुना है।

By: Umesh Sharma

Published: 18 Apr 2021, 04:53 PM IST

जयपुर।

प्रदेश की सहाड़ा, सुजानगढ़ और राजसमंद सीट पर मतदान के बाद कांग्रेस और भाजपा दोनों ही पार्टियां मतदान प्रतिशत में उलझकर रह गई हैं। भले ही दोनों ही तरफ से तीनों सीट पर जीत का दावा किया जा रहा हो, लेकिन मतदान प्रतिशत के आधार पर दोनों पार्टियां उलझन में हैं कि जनता ने किसको चुना है।

तीनों सीटों पर लगभग 60.71 प्रतिशत मतदान हुआ है जो 2018 के चुनाव के मुकाबले करीब 10 प्रतिशत कम है। भाजपा उम्मीद लगाए बैठी थी कि मोदी के नाम पर ज्यादा मतदान होगा। मगर ऐसा हुआ नहीं। हालांकि राजसमंद में मतदान प्रतिशत 67.18 रहा, लेकिन शेष दो सीटों सहाड़ा में 56.56 और सुजानगढ़ में 59.20 प्रतिशत मतदान हुआ है। कम मतदान होना हमेशा से रूलिंग पार्टी को फायदा देता आया है, लेकिन कम मतदान के लिए कोविड संक्रमण को जिम्मेदार मानने से इनकार नहीं किया जा सकता है। ऐसे में दोनों ही पार्टियां पसोपेश में हैं कि आखिर जनता का मैंडेट किसको मिला हैं। हालांकि राजसमंद में भाजपा और सुजानगढ़ में कांग्रेस आगे नजर आ रही है, लेकिन सहाड़ा सीट पर सीधी टक्कर नजर आ रही है।

कई नेताओं का भविष्य होगा तय

प्रदेश में 2023 में होने वाले विधानसभा चुनाव से ठीक पहले हो रहे इन उप चुनावों को सेमीफाइनल के रूप में देखा जा रहा है। इन चुनावों के नतीजों से भाजपा के कई नेताओं का भविष्य भी तय होगा। इसमें प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां, नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया, उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ सरीखे नेता शामिल हैं। पूरे चुनाव की बागडोर इन नेताओं के हाथ में थी। दो को नतीजों पर आलाकमान की पूरे नजरें हैं। चुनाव से पहले नड्डा जयपुर में आकर एकजुटता का संदेश दे चुके हैं। इस लिहाज से भी इन चुनावों के परिणाम पार्टी के लिए बहुत अहम हैं।

Umesh Sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned