50 अतिरिक्त बसों के बाद भी अव्यवस्था, निजी वाहनों को दौड़े अभ्यर्थी

50 अतिरिक्त बसों के बाद भी अव्यवस्था, निजी वाहनों को दौड़े अभ्यर्थी

Vijay Kumar Sharma | Publish: Sep, 09 2018 09:03:30 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

एलडीसी परीक्षा : मची बसों को लेकर मारामारी, भटकते रहे छात्र
केन्द्रीय बस स्टैंड सिंधी कैंप पर पर्याप्त बस नहीं मिली तो बाहर निजी बसों के लिए मची होड़, सिंधी कैंप के बाहर शाम पांच बजे से रात तक जाम के हालात रहे

 

जयपुर। परीक्षा या त्यौहार। रोडवज प्रशासन बसों की यात्रियों को गंतव्य तक पहुंचाने में हर वक्त पीछे रहता है। रोडवेज की अतिरिक्त व्यवस्थाएं भी नाकाफी हो रही हैं। ऐसा ही नजारा देखने को मिला रविवार को। एलडीसी परीक्षा के बाद छात्रों की भीड जैसे ही सिंधी कैंप बस स्टैंड पहुंची तो रोडवेज के प्रबंध धरे रह गए। हजारों की ताताद में शहर से बाहर जाने वाले छात्रों के लिए रोडवेज व्यवस्था नहीं कर पाया। ऐसे में अभ्यर्थियों को निजी वाहनों का भी सहारा लेना पड़ा। वहीं दूसरी ओर अभ्यर्थियों की भीड देखकर सिंधी कैंप के बाहर निजी वाहनों का रैला लग गया। शाम पांच बजे से रात तक सड़क पर जाम के हालात बने रहे। इस बीच अन्य लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा।
जयपुर में एलडीसी परीक्षा के लिए करीब 57 हजार अभ्यर्थी पहुंचे। ऐसे में रोडवेज ने बाहरी डिपो से 50 बसें मंगवाकर छात्रों को अपने गंतव्य तक पहुंचाने के इंतजाम किए थे। लेकिन भीड़ के सामने व्यवस्थाएं धरी रह गई।
इससे पहले शनिवार रात को भी अभ्यर्थी परीक्षा देने के लिए जयपुर पहुंचे। इस दौरान सिंधी कैंप बस स्टैंड प्रशासन की अव्यवस्थाएं सामने आईं। बता दें कि पहले चरण की परीक्षा के दौरान भी परीक्षार्थियों के लिए प्रशासन पर्याप्त बसों की व्यवस्था नहीं कर पाया था।

रक्षाबंधन पर भी मची थी मारामारी
उल्लेखनीय है कि रक्षाबंधन पर घर जाने की भीड दोगुनी हो गई थी। ऐसे में सिंधी कैंप बस स्टैंड प्रशासन के पसीने तक आ गए। भीड प्रशासन के लिए चुनौती बन गई। रोडवेज ने रक्षाबंधन को देखते हुए 150 बसें अतिरिक्त लगाई। एक दिन में 60 हजार से अधिक यात्री रवाना हुए। वहीं शहर के आधा दर्जन से अधिक बस स्टैंडों को शामिल किया जाए तो शहर से एक लाख लोग घरों को रवाना हुए थे। रोडवेज एमडी सांवरनमल वर्मा और कार्यकारी निदेशक यातायात यूडी खान को व्यवस्थाओं का जायजा लेने आना पडा था।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned