कार का सेंट्रल लॉक बंद, नहीं खुले दरवाजे, ​​​​​फिर जिंदा जला युवक

रतनपुरा गांव के पास हादसा, शॉर्ट सर्किट से आग लगने का मामला दर्ज -माताजी के मंदिर जाने की बात कहकर रवाना हुआ था नाट्य कलाकार

By: mahesh gupta

Published: 30 Oct 2018, 02:10 AM IST

जयपुर/गठवाड़ी/मनोहरपुर. कार का सेंट्रल लॉक बंद होने के कारण दरवाजे नहीं खुले और फिर एक युवक जिंदा जल गया। ऐसा ही हादसा 8 आठ दिन पहले आगरा रोड पर भी हुआ था।
मनोहरपुर-दौसा हाइवे से जुड़े रतनपुरा-कंवरपुरा लिंक रोड पर सोमवार तड़के कार में आग लगने से युवक जिंदा जल गया। मृतक के परिजनों ने अज्ञात वाहन की टक्कर के बाद कार में शॉर्ट सर्किट होने से आग लगने का मामला दर्ज कराया है।
पुलिस ने बताया कि ढाणी इसराला हरिपुरा गठवाड़ी निवासी सुभाष चंद शर्मा ने मामला दर्ज कराया कि उसका भाई शिवकुमार उर्फ सुवालाल (37) तड़के 4 बजे माताजी के मंदिर जाने की बात कहकर कार से रवाना हुआ था। रतनपुरा के पास अज्ञात वाहन से टक्कर हो गई। इसके बाद गाड़ी में शॉर्ट सर्किट होने से आग लग गई और सेंट्रल लॉक नहीं खुलने से शिवकुमार गाड़ी में ही जिंदा जल गया। ग्रामीणों की सूचना पर शाहपुरा से पहुंची दमकल ने आग पर काबू पाया, लेकिन जब तक शिवकुमार जल चुका था।
मृतक नाट्य कलाकार था। वह रामलीला सहित अन्य कई नाटकों का मंचन करता था।

पुलिस का करना पड़ा इंतजार
पुलिस ने घटनास्थल से शव को एम्बुलेंस से चंदवाजी के निम्स अस्पताल भिजवाया। पुलिसकर्मी शव को मोर्चरी में रखवा कर चले गए। गठवाड़ी पीएचसी प्रभारी डॉ. सुरेश लाम्बा सुबह करीब ८.३३ बजे पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल पहुंच गए, पर करीब ९.३१ बजे मनोहरपुर से पुलिसकर्मी पहुंचे और मनोहरपुर सीएचसी के डॉ. सुरेन्द्र धनकड़ से पोस्टमार्टम कराने की बात कहते हुए उन्हें लेने के लिए मनोहरपुर थाने की कार भिजवाई। करीब १०.४१ बजे डॉ. धनकड़ अस्पताल पहुंचे एवं पोस्टमार्टम किया।

आठ दिन पहले भी जिंदा जला था एक युवक
गौरतलब है कि आठ दिन पहले भी जयपुर-आगरा नेशनल हाइवे पर कानोता के समीप एक युवक कार में आग लगने से जिंदा जल गया था। यह हादसा भी कार में शॉर्ट सर्किट होने से हुआ था।

mahesh gupta Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned