फिर से ध्यान दें साख बनाने पर

किसी भी बिजनेस की सफलता इस बात पर भी निर्भर करती है कि एम्प्लॉयर की साख कैसी है

By: Archana Kumawat

Published: 30 Dec 2018, 04:10 PM IST

अपने लिए सही गोल्स सेट करें
ज ब आपकी साख पर ऑफिस में किसी तरह का कोई खतरा आने लगे तो आपको इस बारे में विचार करना चाहिए। यदि कस्टमर्स आप के बारे में गलत तरह की टिप्पणी कर रहे हैं तो इसे हल्के में न लें और मूल समस्या समझने का प्रयास करें। आपको फिर से अपने पर्सनल ब्रांड को बनाने पर ध्यान देना होगा।

नुकसान का मूल्यांकन
य दि किसी वजह से आपकी वर्कप्लेस या कस्टमर्स के सामने आपकी साख खराब हुई है तो आपको यह सोचना होगा कि इसका आपके कॅरियर क्या नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है। डिजिटल इमेज के बारे में भी विचार करें, जैसे सोशल मीडिया, ऑनलाइन रिलेशनशिप और गूगल सर्च रिजल्ट किस तरह से प्रभावित हो सकते हैं। इससे आप वर्तमान परिस्थिति की गहराई को समझ पाएंगे। कई आपको लगता है कि इसका आपके बिजनेस पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा लेकिन आपको ऐसा सोचना गलत है। साख को नुकसान पहुंचा है तो मूल्यांकन करें।

काम से अलग रखें भावनाओं को
आपके काम पर आपकी भावनाएं भावी नहीं होनी चाहिए, नहीं तो आप एकाग्रता से काम नहीं कर पाएंगे और आपको बेहतर परिणाम भी नहीं मिल पाएंगे। कई बार साख खराब होने के पीछे यह भी एक बड़ी वजह होती है। यदि आप पिछले कुछ समय से किसी परेशानी से चल रहे हैं और इस वजह से आपकी प्रोडक्टिविटी भी कम हुई तो इस ओर ध्यान देने की जरूरत है। यदि आपका काम रोजाना क्लाइंस से डील करना है और पिछले कुछ समय से ठीक से काम नहीं कर पा रहें तो इसे गंभीरता से लें।

मीडिया के लिए रणनीति
माना किसी प्रोडक्ट और सर्विस की वजह से आपकी साख खराब हो गई है तो आपको सोशल मीडिया के लिए एक नई रणनीति बनानी होगी। अपने क्लाइंट्स और कस्टमर्स को गलत सर्विस या गलत व्यवहार के लिए क्षमा मागने के साथ ही उन्हें यह विश्वास दिलाएं कि कंपनी के प्रति उनका भरोसा आगे कभी खराब नहीं होगा। इस तरह मीडिया रणनीति बनाकर भी आप अपनी खोई हुई साख वापस पा सकते हैं लेकिन आपको मेहनत करनी होगी।

सभी विकल्पों का प्रयोग करें
अ ब दुनिया ज्यादा पारदर्शी होती जा रही है। ऐसे में आप डिजिटली कोई गलती छिपा नहीं सकते हैं। इसलिए फिर से रेपुटेशन बनाने के लिए थोड़ा इंतजार भी करना होगा। इसमें आपको कुछ महीने या फिर सालभर भी लग सकता है। इस दौरान आपको हताश होने की आवश्यकता नहीं है, बल्कि पूरी ईमानदारी से अपने लक्ष्यों पर केंद्रित रहें और अपनी गलतियों को सुधारने पर ध्यान दें। अपनी क्षमताओं को आगे बढ़ाने का प्रयास करें।

ऑर्गेनाइजन में रखें ध्यान
बाहरी छवि बनाने के साथ ही आपको अपने आर्गेनाइजेशन में भी इमेज बिल्डिंग पर ध्यान देना होगा, जैसे आपके पार्टनर एवं शेयरहोल्डर की नजरों में फिर से छवि बनाने पर ध्यान देना होगा। यदि आपके किसी अभद्र व्यवहार या गलत निर्णय के कारण आपकी साख खराब हुई है तो आपको इसके लिए सभी से क्षमा मांगनी चाहिए तथा साथ ही उन्हें यह भी विश्वस्त करें कि आप आगे से ऐसा व्यवहार नहीं करेंगे। इस तरह आप इनहाउस फिर से रेपुटेशन बना सकते हैं।

Archana Kumawat
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned