script'Cataclysmic' 51-minute orbit between two stars is the fastest ever re | तारों की नई जोड़ी मिली, हर 51 मिनट में एक-दूसरे का चक्कर | Patrika News

तारों की नई जोड़ी मिली, हर 51 मिनट में एक-दूसरे का चक्कर

locationजयपुरPublished: Oct 07, 2022 11:34:00 pm

Submitted by:

Aryan Sharma

जय विज्ञान : एमआइटी के खगोलविदों ने तारों का सबसे छोटा परिक्रमा काल भी खोजा
सूर्य जैसा तारा बौने तारे को 'दान' कर रहा है हाइड्रोजन

तारों की नई जोड़ी मिली, हर 51 मिनट में एक-दूसरे का चक्कर
तारों की नई जोड़ी मिली, हर 51 मिनट में एक-दूसरे का चक्कर
वॉशिंगटन. मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (एमआइटी) के खगोलविदों ने तारों की एक जोड़ी की खोज की है, जिनका परिक्रमा काल सबसे छोटा है। ये हर 51 मिनट में एक-दूसरे का चक्कर लगाते हैं। खगोल शास्त्र में इस प्रणाली को प्रलयकारी चर (केटाक्लिसमिक वेरिएबल) कहा जाता है। इन दो तारों में से एक सफेद ऑर्बिट में परिक्रमा करता है। इसकी कोर गर्म और घनी है।
यह नई खोज नेचर जर्नल में प्रकाशित की गई है। खगोलविदों की टीम ने तारों की इस जोड़ी को जेडटीएफ-जे 1813+4251 टैग दिया है। इनके जरिए तारों की अब तक की सबसे छोटी कक्षा का पता चला है। टीम दोनों तारों के गुणों का आगे अध्ययन करेगी। फिलहाल खगोलविदों ने सिर्फ अनुमान लगाया है कि इनकी प्रणाली आज किस तरह चल रही है और भविष्य में क्या रूप ले सकती है। उनका मानना है कि दोनों तारे इस समय संक्रमण काल में हैं।

और करीब हो जाएंगे करोड़ों साल बाद
इस जोड़ी का एक तारा सूर्य जैसा है। वह अपना अधिकांश हाइड्रोजन वातावरण सफेद बौने तारे को 'दान' कर रहा है। इन तारों की खोज करने वाली टीम का कहना है कि सूर्य जैसा तारा अंतत: घनी, हीलियम युक्त कोर में बदल जाएगा। करीब सात करोड़ साल बाद दोनों तारे एक-दूसरे के और करीब हो जाएंगे। तब इनका परिक्रमा काल घटकर 18 मिनट तक हो सकता है।
पहली बार सीधे देखी संक्रमण प्रणाली
पहली बार तारों की इस तरह की संक्रमण प्रणाली सीधे देखी गई है। एमआइटी के भौतिकी विभाग से जुड़े केविन बर्ज का कहना है, 'यह दुर्लभ मामला है, जब हमने तारे को हाइड्रोजन से हीलियम अभिवृद्धि करते हुए पकड़ा है। तारों के संक्रमण काल के अध्ययन की दृष्टि से यह खोज सुकून देने वाली है।'

सम्बधित खबरे

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

दिल्ली पुलिस को बड़ी सफलता, 22 पिस्टल और 5 मैगजीन के साथ तीन गिरफ्तारदिल्ली में श्रद्धा मर्डर जैसा एक और केस, शव के टुकड़े कर फ्रिज में रखा, मां-बेटा गिरफ्तारCM भूपेश बघेल बोले- बलात्कारी को बचाने में लगी हुई है भाजपा, ED-IT को लेकर कही ये बातगुजरात चुनाव में 'आप' को झटका, वसंत खेतानी भाजपा में शामिल केजरीवाल निराशादिल्ली के स्कूल में बम की सूचना से मचा हड़कंप, डिस्पोजल स्क्वॉड मौके परयोगी के सभा में जाते लोगों में हुई धक्का-मुक्की, नाले में गिरे लोगदेवास में राहुल गांधी के खिलाफ शिकायत, जानिए आखिर क्यों...?गुजरात चुनाव: भाजपा के पूर्व मंत्री जय नारायण व्यास बेटे के साथ कांग्रेस में शामिल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.