300 डॉलर प्रति किलो मिल रहा यह स्वाद के मोतियों वाला खट्टा फल फिंगर लाइम

किसी खट्टे फल की तुलना में जल्पेनो काली मिर्च की तरह अधिक दिखने वाला यह फल ऑस्ट्रेलियन फिंगर लाइम या कैवियार लाइम कहलाता है। कमाल इसके गूदे में है, जैसे स्वाद के कोई मोती।

By: Amit Purohit

Published: 27 Mar 2020, 06:43 PM IST

लेमन या लाइम की तरह स्वाद वाले किसी फल के लिए कोई क्यों इतनी अधिक राशि का भुगतान करेगा लेकिन यह हो रहा है। इसके गूदे में स्वाद के मोतियों जैसी बनावट इस अतिरिक्त लागत के लायक होती है, क्योंकि जब आप उन्हें काटते हैं तो डिनर की टेबल पर स्वाद का विस्फोट हो जाता है।

फिंगर लाइम एक कांटेदार झाड़ी या तराई का छोटा सा पेड़ है जो क्वींसलैंड और न्यू साउथ वेल्स, ऑस्ट्रेलिया के तटीय सीमा क्षेत्र में वर्षावन में उगता है। इसके वाणिज्यिक विकास के भरपूर मौके हैं, जिन्हें भुनाने की तैयारी चल रही है।

पिछले एक दशक में, फिंगर लाइम कैवियार की मांग इतनी अधिक हो गई है कि फ्रांस या कैलिफोर्निया जैसी जगहों पर वृक्षारोपण शुरू हो गया है। फिर भी, फल दुर्लभ माना जाता है, और वर्तमान में खुले बाजार में $ 200 और $ 300 प्रति किलोग्राम के बीच कहीं भी बेचा जाता है। कम वृक्षारोपण के चलते ऐसा है क्योंकि पेड़ों को बहुत अधिक ध्यान देने की आवश्यकता होती है और फलों की बड़ी संख्या ऐसी होती है जो बेचे जाने लायक नहीं होती।

तटीय ऑस्ट्रेलिया के तराई उपोष्णकटिबंधीय वर्षावनों के मूल से उत्पन्न होकर यह दुनिया भर के मिशेलिन स्टार रेस्तरां में सबसे दुर्लभ सामग्री बन गया है। पोमेलो के समान, इन छोटे खट्टे फलों में कैवियार जैसे मोती होते हैं, जिनका उपयोग पॉश व्यंजनों को गार्निश करने के लिए किया जा सकता है, जब कोई व्यक्ति उन्हें काटता है तो अम्लीय स्वाद का जैसे कोई विस्फोट सा ही होता है। इसीलिए ये महंगे हैं।

Amit Purohit Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned