पेट्रोल-डीजल की दरें बढ़ाकर महापाप कर रही हैं केंद्र सरकार- खाचरियावास

परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा की केंद्र की भाजपा सरकार ने पेट्रोल-डीजल की दरें आज तक के उच्चतम स्तर पर पहुंचा कर तानाशाही, मनमानी की सभी हदें पार कर दी हैं। आज तक के इतिहास में ऐसी तानाशाही सरकार नहीं देखी जिस सरकार का नुमाइंदा सिर्फ झूठ, फरेब और धोखे की राजनीति करता है।

By: Umesh Sharma

Published: 14 Jun 2020, 08:53 PM IST

जयपुर।

परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा की केंद्र की भाजपा सरकार ने पेट्रोल-डीजल की दरें आज तक के उच्चतम स्तर पर पहुंचा कर तानाशाही, मनमानी की सभी हदें पार कर दी हैं। आज तक के इतिहास में ऐसी तानाशाही सरकार नहीं देखी जिस सरकार का नुमाइंदा सिर्फ झूठ, फरेब और धोखे की राजनीति करता है।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के किसी भी नेता को देश की जनता के कोरोना संकट के समय में दुख-दर्द और परेशानी से कोई सरोकार नहीं है। यही कारण है कि केंद्र सरकार पिछले 8 दिन से लगातार पेट्रोल-डीजल की दरें बढ़ा रही हैं, पेट्रोल-डीजल की दरें तब बढ़ाई जा रही है जब पूरी दुनिया में क्रूड ऑयल सबसे सस्ते एवं निम्न स्तर 20 डॉलर प्रति बैरल रह गया है, ऐसे में एक्साइज ड्यूटी बढ़ाकर केंद्र की भाजपा सरकार ने तीन लाख करोड़ रुपए इकट्ठे कर लिए और जनता को आजादी के बाद का सबसे महंगा पेट्रोल-डीजल खरीदने पर मजबूर कर दिया।

उन्होंने कहा कि पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ने से प्रत्येक वस्तु महंगी हो गई है, कच्चे एवं फिनिश गुड्स पर माल भाड़ा बढ़ने से महंगाई लगातार बढ़ रही है लेकिन बेशर्म भाजपा के नेता जनता के दुखों को ताक पर रखकर विजय माल्या, नीरव मोदी एवं मेहुल चौकसी जैसे लोगों के 68 हजार करोड़ रुपए माफ कर देते हैं, लेकिन जनता के दिन प्रतिदिन काम में आने वाला पेट्रोल-डीजल प्रतिदिन बढ़ाकर उन पर आर्थिक भार बढ़ा रहे हैं। पेट्रोल-डीजल की वृद्धि करके केंद्र की भाजपा सरकार लगातार जनता पर जुल्म कर रही है।

Umesh Sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned