scriptChief Minister Gehlot's advisor raised questions on Congress leaders | मुख्यमंत्री के सलाहकार संयम लोढ़ा ने उठाए टिकट वितरण पर सवालः कहा, 'क्या नेताओं ने विधानसभा चुनाव में भांग खाकर बांटे थे टिकट'? | Patrika News

मुख्यमंत्री के सलाहकार संयम लोढ़ा ने उठाए टिकट वितरण पर सवालः कहा, 'क्या नेताओं ने विधानसभा चुनाव में भांग खाकर बांटे थे टिकट'?

-जिला प्रभारी महेंद्र चौधरी के समक्ष विधायक संयम लोढ़ा ने पीसीसी पदाधिकारियों के चयन पर भी उठाए सवाल, अपने बूथ पर हारने वाले बनाए जाते हैं प्रदेश पदाधिकारी

जयपुर

Updated: December 07, 2021 10:44:22 am

जयपुर। विधानसभा चुनाव में टिकट वितरण और प्रदेश कार्यकारिणी को लेकर अब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के सलाहकार और वरिष्ठ निर्दलीय विधायक संयम लोढ़ा ने सवाल खड़े किए हैं। सोमवार को सिरोही में कांग्रेस कार्यकर्ताओं की बैठक लेने गए जिला प्रभारी महेंद्र चौधरी की उपस्थिति में मुख्यमंत्री के सलाहकार व वरिष्ठ विधायक संयम लोढ़ा ने सवाल खड़े करते हुए कई गंभीर आरोप लगाए।

sanyam lodha
sanyam lodha

संयम लोढ़ा ने कहा कि विधानसभा चुनाव में सिरोही और मारवाड़ जंक्शन के कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस की गलती सुधारते हुए उन सीटों पर भाजपा को हरा दिया, कांग्रेस के उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गई, कोई 30 हजार से से हारा तो कोई 40 हजार वोटों से चुनाव हारा। संयम लोढ़ा ने कहा कि क्या कांग्रेस के नेताओं ने तब भांग खाकर टिकट बांटे थे? कांग्रेस नेताओं को ग्राउंड रियलिटी का जरा सा भी एहसास नहीं था।

संयम लोढ़ा ने अपने इस बयान के जरिए एक तीर से कई निशाने साधे हैं। दरअसल विधानसभा चुनाव के दौरान सचिन पायलट प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष हैं तो वहीं प्रदेश प्रभारी की भूमिका में अविनाश पांडे थे। ऐसे में माना जा रहा है कि उनका यह बयान इन दोनों नेताओं की कार्यशैली पर ही है। संयम लोढ़ा ने कहा कि सिरोही, जालौर और मारवाड़ जंक्शन के चप्पे-चप्पे में कांग्रेस बसी है लेकिन नेताओं को टिकट का चयन तो सही करना चाहिए।

बूथ पर हारने वाले बन जाते हैं प्रदेश पदाधिकारी
संयम लोढ़ा ने प्रदेश कार्यकारिणी को लेकर भी सवाल खड़े किए। संयम लोढ़ा ने कहा कि अपने बूथ पर चुनाव हारने वाले नेता भी प्रदेश कांग्रेस के पदाधिकारी बन जाते हैं, जिन बूथों पर कांग्रेस पीछे रहती है वह प्रदेश का पदाधिकारी बन जाता है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस का पदाधिकारी बनाते समय उनका रिकॉर्ड तो जानना चाहिए कि उनका परिणाम क्या रहा? लोढ़ा ने प्रभारी मंत्री के सामने कहा कि अगर कांग्रेस की कमजोरी दूर करनी है तो जो पदाधिकारी बनते हैं उनका रिकॉर्ड सबके सामने रखना चाहिए और फिर फैसला करना चाहिए। संयम ने कहा कि यहां कांग्रेस के लिए गड्ढा खोदने वाले वहां जाकर प्रदेश के पदाधिकारी बन जाते हैं और नेताओं के साथ फोटो खिंचवाते हैं।

भाजपा को हराने के लिए करते हैं हम 24 घंटे काम
संयम लोढ़ा ने बैठक में कहा कि हम वही करेंगे जो अब तक करते हैं आए हैं, भाजपा को हराने के लिए हम 24 घंटे काम करते हैं और करते रहेंगे, लेकिन जो लोग पंचायत चुनाव में बड़े-बड़े दावे करते थे उनका भी रिजल्ट एक बार देखना चाहिए कि उन्होंने क्या परिणाम दिया।

प्रदेश में मुख्यमंत्री की विश्वसनीयता
विधायक संयम लोढा ने कहा कि प्रदेश में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की विश्वसनीयता बरकरार है, पूरा राजस्थान में लोग उनको चाहते हैं और उनका मान सम्मान बरकरार है। उनके फैसलों पर लोग अपनी मुहर लगाते हैं, लोग कांग्रेस से जुड़ना चाहते हैं और कांग्रेस को मजबूत करना चाहते हैं इसीलिए कांग्रेस की कमजोरियों को दूर करना चाहिए।

अमित शाह पर भी साधा निशाना बैठक
लोढ़ा ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के बयान पर निशाना साधते हुए कहा कि 2023 में दो तिहाई बहुमत से सरकार बनाने वालों का दावा पूरी तरह से फेल है। विधानसभा उपचुनाव में इनके प्रत्याशियों की जमानत जब्त हो गई ऐसे में यह किस मुंह से दो तिहाई बहुमत है आने का दावा कर रहे हैं। गौरतलब है कि ऐसा पहली बार नहीं है जब वरिष्ठ विधायक संयम लोढ़ा ने कांग्रेस ने नेताओं पर सवाल खड़े किए हों, इससे पहले भी कांग्रेस नताओं को लेकर ऐसी बयानबाजी करते आए हैं। संयम लोढ़ा को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का बेहद करीबी माना जाता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

पूर्व केंद्रीय मंत्री आरपीएन सिंह ने छोड़ी कांग्रेस, सोनिया गांधी को सौंपा अपना इस्तीफाRepublic Day 2022: आज होगी वीरता पुरस्कारों की घोषणा, गणतंत्र दिवस से पूर्व राजधानी बनी छावनीRepublic Day 2022: गणतंत्र दिवस से पहले दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने जारी की एडवाइजरी, घर से निकलने से पहले जरूर जान लेंDelhi: सीएम केजरीवाल का ऐलान, अब सरकारी दफ्तरों में नेताओं की जगह लगेंगी अंबेडकर और भगत सिंह की तस्वीरेंशरीयत पर हाईकोर्ट का अहम आदेश, काजी के फैसलों पर कही ये बातUP Election Campaign :मायावती दो फरवरी से करेंगी प्रचार का आगाज, आगरा में होगी पहली जनसभा7th Pay Commission: कर्मचारियों में खुशी की लहर, जल्द खाते में आएंगे पैसे, एलाउंस भी मिलेगापुलिस को देखकर फिल्मी स्टाइल में बेरिकेट तोड़कर भागे तस्कर, जब जवानों ने की चेकिंग तो मिला डेढ़ करोड़ का गांजा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.