पीएम की वीसी में बोले मुख्यमंत्री गहलोत, गलत के सामने कभी नहीं झुकें

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि गुरू तेग बहादुरजी का बलिदान केवल धर्म पालन के लिए ही नहीं अपितु समस्त मानवीय सांस्कृतिक विरासत की खातिर बलिदान था।

By: Ashish

Published: 08 Apr 2021, 07:02 PM IST

जयपुर
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि गुरू तेग बहादुरजी का बलिदान केवल धर्म पालन के लिए ही नहीं अपितु समस्त मानवीय सांस्कृतिक विरासत की खातिर बलिदान था। दिल्ली का शीशगंज गुरूद्वारा साहिब आज भी हमें याद दिलाता है कि चाहे अधर्म कितना भी बढ़ जाए, सत्ता अपने आप को कितना भी मजबूत समझे लेकिन यदि वो गलत है तो उसके सामने कभी नहीं झुकना चाहिए। किसान आंदोलन को लेकर भी गहलोत ने अपनी बात रखी।

गहलोत ने गुरूवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में आयोजित गुरू तेग बहादुर की 400वीं जन्म शताब्दी उच्च स्तरीय समिति की पहली बैठक में यह बात कही। मुख्यमंत्री ने कहा कि गुरू तेग बहादुरजी ने हमारी संस्कृति की महान परंपरा का निर्वहन करते हुए अपनी शहादत दी।

किसान आंदोलन को लेकर रखी बात

गहलोत ने बैठक के दौरान प्रधानमंत्री से अनुरोध किया कि विभिन्न मांगों को लेकर देशभर में लंबे समय से चल रहे किसान आंदोलनों का इस पुनीत अवसर पर कोई सार्थक हल निकाला जाए। मुख्यमंत्री ने बैठक में सुझाव दिया कि गुरू तेग बहादुर के 400वीं जन्म शताब्दी के उपलक्ष्य में वर्षभर आयोजित होने वाले कार्यक्रमों को प्रभावी ढंग से आयोजित करने के लिए समितियों का गठन किया जाए।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned