आयरन फूड से तेज होगा बच्चों का दिमाग

आयरन की पूर्ति के लिए गहरी हरे रंग की सब्जियां जैसे पालक, ब्रोकली, दालें और नट्स का सेवन करेें

क्या कहती है रिसर्च
शोध से सामने आया कि मेंटल और फिजिकल फंक्शन के लिए आयरन महत्त्वपूर्ण होता है। आयरन लाल रक्त कणिकाओं की संख्या बढ़ाता है, जो पूरे शरीर में ऑक्सीजन की पूर्ति करता है। इस तरह ब्रेन को ऑक्सीजन मिलने से उसकी कार्यक्षमता बढ़ेगी। टीनेज गल्र्स के लिए रोजाना १५ एमजी आयरन जरूरी है।

मेमोरी पावर को बढ़ाने में असरदार
वै ज्ञानिकों ने शोध के दौरान देखा कि जिन बच्चों में नेचुरल आयरन सप्लीमेंट दिया गया, उनकी मानसिक क्षमता में पहले की तुलना में अधिक सुधार देखा गया। आयरन की पर्याप्त खुराक लेने से एकाग्रता, शॉर्ट-टर्म मेमोरी और लॉन्ग-टर्म मेमोरी में सुधार हुआ। शोध से यह भी सामने आया कि आयरन कॉग्नेटिव परफॉर्मेंस को भी इंप्रूव करता है। इस तरह विशेष परिस्थितियों में कॉग्नेटिव डवलपमेंट को बढ़ाने के लिए यदि व्यक्ति को डाइटरी आयरन सप्लीमेंट दिया जाए तो ब्रेन में आयरन सघनता को बढ़ाया जा सकता है।

महिलाओं के लिए भी जरूरी
अ ध्ययन में यह भी सामने आया कि आयरन की कमी से महिलाओं के मानसिक स्वास्थ्य पर भी नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। इस संबंध में निकोलस कॉपरनिकस यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने पाया कि आयरन की कमी से महिलाओं का मूड खराब रहता है। मासिक धर्म के दौरान यह स्थिति ज्यादा पाई गई। शोधकर्ताओं का मानना है कि यदि महिलाओं में न्यूट्रिशंस की कमी है तो वे मूडी होने के साथ ही मोटिवेशन की भी कमी महसूस करती हैं। पौलेंड के वैज्ञानिकों की टीम का भी मानना है कि आयरन की कमी से डिप्रेशन जैसी समस्याएं हो सकती हैं।

रोजमर्रा के कामों में बाधा
इस नए शोध से समाने आया कि जिन बच्चों और युवाओं में आयरन की कमी थी, उन्हें रोजमर्रा के कामों को करने में भी समस्या का सामना करना पड़ता है। आयरन की कमी से ग्रसित बच्चे तार्किक क्षमता वाले काम नहीं कर पाए, जबकि जिन बच्चों को कुछ दिनों तक नेचुरल आयरन सप्लीमेंट दिया, उनका प्रदर्शन बेहतर था। वैज्ञानिकों का मानना है कि ब्रेन सेल्स के फंक्शन के लिए आयरन बहुत आवश्यक है। कुछ पूर्व के अध्ययनों से भी यह सामने आया कि मेंटल हेल्थ के साथ ही फिजिकल फंक्शन के लिए भी आयरन जरूरी मिनरल है।

फूड्स से लें आयरन
आ यरन की कमी को दूर करने के लिए नेचुरल डाइटरी सप्लीमेंट का ही सेवन किया जाना चाहिए ताकि आयरन के साथ ही आप अन्य तरह के पोषक तत्वों की भी कमी को दूर कर सकें। दरअसल, शरीर में आयरन के अवशोषण पर भी ध्यान देने की आवश्यकता है। इसके लिए विटामिन सी महत्त्वपूर्ण होता है। इसलिए ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन अधिक करें, जिसमें आयरन और विटामिन सी, दोनों का ही स्तर अच्छा होगा। इसके लिए ब्रोकली बेस्ट ऑप्शन है। अपने बच्चों में बौद्धिक विकास को बढ़ाने के लिए ब्रोकली को दिन में एक बार अवश्य खिलाएं।

Archana Kumawat Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned