scriptchild labor case in jaipur | 10 से 15 साल के 17 बच्चों से जयपुर में कराया जा रहा था ये घिनौना काम.. पुलिस हैरान | Patrika News

10 से 15 साल के 17 बच्चों से जयपुर में कराया जा रहा था ये घिनौना काम.. पुलिस हैरान

इस महीने में ही दस बार से ज्यादा छापे मारे गए हैं और इनमें पचास से भी ज्यादा बच्चे मुक्त कराए हैं।

जयपुर

Published: December 24, 2021 12:09:13 pm

जयपुर
बाल श्रम कराने वालों के खिलाफ जयपुर पलिस ने कमर कस रखी है। लगातार छापेमारी की जा रही है लेकिन उसके बाद भी बाल श्रम कराने वाले बाज नहीं आ रहे हैं। शास्त्री नगर और भट्टा बस्ती में सबसे ज्यादा बाल श्रम कराया जा रहा है।
Police raid robbery
भट्टा बस्ती पुलिस ने दो कारखानों पर छापे मारकर बच्चों को मुक्त कराया है। बच्चों की उम्र सात आठ साल से करीब पंद्रह साल तक की है। पुलिस औा मानव तस्करी यूनिट की टीम ने शहीद इंद्रा काॅलोनी और जेपी काॅलोनी में छापे मारे। यहां पर लाख ओर कांच की चूडियां बनाने के कारखाने हैं। इन कारखानों में एक जगह से सात और दूसरी जगह से दस बच्चों को मुक्त कराया गया है। लगभग सभी बच्चे बिहार के रहने वलो हैं।
उनके माता.पिता से झूठ बोलकर उनको काम पर जयपुर लाया गया और उसके बाद बंधक ही बना लिया गया। पुलिस ने दलाल और कारखानों के मालिकों पर मारपीट और अन्य धाराओं में केस दर्ज किया है। उनके माता.पिता से झूठ बोलकर उनको काम पर जयपुर लाया गया और उसके बाद बंधक ही बना लिया गया। पुलिस ने दलाल और कारखानों के मालिकों पर मारपीट और अन्य धाराओं में केस दर्ज किया है। चूड़ी बनाने के उपकरण तैयार एवं कच्चा माल भी जब्त किया गया है। गौरतलब है कि इससे पहले भी जयपुर पुलिस और मानव तस्कर विरोधी यूनिट की टीमों ने छापे मारे थे।
इस महीने में ही दस बार से ज्यादा छापे मारे गए हैं और इनमें पचास से भी ज्यादा बच्चे मुक्त कराए हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Azadi Ka Amrit Mahotsav में बोले पीएम मोदी- ये ज्ञान, शोध और इनोवेशन का वक्तपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलNEET UG PG Counselling 2021: सुप्रीम कोर्ट ने कहा- नीट में OBC आरक्षण देने का फैसला सही, सामाजिक न्‍याय के लिए आरक्षण जरूरीटोंगा ज्वालामुखी विस्फोट का भारत पर भी पड़ सकता है प्रभाव! जानिए सबसे पहले कहां दिखा असरCorona cases in India: कोरोना ने तोड़ा 8 महीने का रिकॉर्ड; 24 घंटे में 3 लाख से ज्यादा कोरोना के नए केस, मौत का आंकड़ा 450 के पार23 को एमपीपीएससी की परीक्षा, पसोपेश में कोरोना संक्रमित अभ्यर्थीUP Election 2022 : SP-RLD गठबंधन को लगा तगड़ा झटका, अवतार सिंह भड़ाना नहीं लड़ेंगे चुनावजिला निष्पादक समीक्षा समिति की बैठक आयोजित
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.