बच्चों का सिर हल्का गर्म होना अक्सर बुखार नहीं होता, खानपान का रखें ध्यान

बच्चों के मस्तिष्क की विकास दर अधिक होती हैं और सिर की हड्डियां मुलायम होती है। इस कारण सिर गर्म महसूस होता है।

By: Archana Kumawat

Published: 11 Jan 2021, 07:46 AM IST

बच्चों का सिर गर्म होना और रात में सोते समय सिर पर अधिक पसीना आने से माता-पिता चिंतित हो जाते हैं। लेकिन शिशुओं और बच्चों को रात में सोते समय पसीना आना आम बात है। ऐसा रोज या हफ्ते में कभी-कभी हो सकता है। कुछ मामलों में सिर का अधिक गर्म रहना या अधिक पसीना आने का संबंध स्वास्थ्य समस्याओं से हो सकता है। वहीं कुछ मामलों में इसके पीछे कोई कारण नहीं होता है। अचानक बच्चे को अधिक पसीना आने लगे और अन्य लक्षण भी नजर आएं तो इसे नजरअंदाज न करें-
मिनरल्स और विटामिंस की कमी हो सकती है वजह
सोते समय अधिक पसीना आने के पीछे वातावरण में अधिक गर्मी या नमी वजह हो सकती है। बच्चों के मस्तिष्क की विकास दर अधिक होती हैं और सिर की हड्डियां मुलायम होती है। इस कारण सिर गर्म महसूस होता है। इनके अलावा कैल्शियम एवं विटामिन डी की कमी, एनीमिया, हाइपरथाइरोडिज्म, जन्मजात हृदय की बीमारी, सांस की बीमारी, नाक बंद रहना आदि कारण हो सकते हैं। ऐसे में डॉक्टर की सलाह से उचित जांच करवाएं।
एक्सपर्ट कमेंट
कमरे के तापमान के अनुसार ही बच्चे को कपड़े पहनाएं। अनावश्यक कंबल और चादर हटा दें। खानपान और हाइड्रेशन का पूरा ध्यान रखें। सिर के गर्म होने को बुखार नहीं मानें, बल्कि बच्चे का तापमान लेकर देखें।
- डॉ. बी एस शर्मा, शिशु रोग विशेषज्ञ, जयपुर

Archana Kumawat
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned