सारी पार्टियां एक हो जाएं तो भी भाजपा सीएए पर एक इंच भी पीछे नहीं हटने वाली

नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में केंद्रीय गृहमंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने शुक्रवार को जोधपुर में हुंकार भरी। शाह ने साफ कर दिया कि सीएए के विरोध में सारी पार्टियां एक हो जाए, मगर भाजपा इस कानून को लेकर एक इंच भी पीछे नहीं हटने वाली है।

By: Umesh Sharma

Updated: 03 Jan 2020, 04:48 PM IST

जयपुर।

नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में केंद्रीय गृहमंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने शुक्रवार को जोधपुर में हुंकार भरी। शाह ने साफ कर दिया कि सीएए के विरोध में सारी पार्टियां एक हो जाए, मगर भाजपा इस कानून को लेकर एक इंच भी पीछे नहीं हटने वाली है। पाकिस्तान, अफगानिस्तार और बांग्लादेश के विस्थापितों को नागरिकता देने से को कोई नहीं रोक सकता। जितना भ्रम और गुमराह करना है कर लें। हम भी परिश्रम करेंगे, युवा, मॉइनॉरिटी के पास जएंगे और बताएंगे की आपकी नागरिकता से कोई लेनदेन नहीं है। करीब 32 मिनट के भाषण में शाह ने राहुल गांधी, ममता बनर्जी और बसपा सुप्रीमो मायावती पर निशाना साधा। यही नहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री को उन्होंने केजरीवाल एंड कंपनी के नाम से भी संबोधित किया।

शाह ने कहा कि कांग्रेस, ममता बनर्जी, एसपी, बीएसपी, केजरीवाल एंड कंपनी, कम्यूनिस्ट ये सारे सीएए का विरोध कर रहे हैं, इन सभी को चुनौती देने आया हूं। आप कहते हो इससे देश के अंदर अल्पसंख्यकों का नागरिकता चली जाएगी। राहुल बाबा कानून पढ़ा है तो कहीं पर भी चर्चा करने आ जाओ नहीं पढ़ा है तो इटालियन भाषा में भी उसका अनुवाद करके भेज देता हूं। उसे पढ़ लीजिए। सीएए के अंदर कहीं पर भी नागरिकता लेने का प्रावधान नहीं है, सिर्फ नागरिकता देने का प्रावधान है।

कांग्रेस ने किया धर्म के आधार पर बंटवारा

शाह ने कांग्रेस पर धर्म के आधार पर बंटवारा करने के आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि देश की जनता को कहना चाहता हूं कि धर्म के आधार पर देश का बंटवारा नहीं होना चाहिए था। ये फैसला कांग्रेस ने किया था। उस समय नेहरू-लियाकत समझौता हुआ, जिसमें दोनों देशों ने अपने यहां के अल्पसंख्यकों का सम्मान करने की बात कही। मगर इन तीन देशों में लगातार अल्पसंख्यक कम होते गए, लेकिन हमने अल्पसंख्यकों को पूरे अधिकार दिए और हमारे यहां अल्पसंख्यकों की आबादी बढ़ी।

डर रहे हैं गहलोत

शाह ने राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि राजस्थान कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में शरणार्थियों को नागरिकता देने की बात कही है। यही नहीं उन्होंने भारत सरकार को पत्र भी लिखा था, लेकिन वोटबैंक खिसकने के डर से वो पीछे हट रहे हैं। हमने तो उनके घोषणा पत्र पर ही अमल किया है। कोटा में हो रही बच्चों की मौत को लेकर शाह ने कहा कि कोटा में रोज बच्चे मर रहे हैं, उनकी चिंता करो।

Amit Shah CAA
Umesh Sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned