सीएम Ashok Gehlot बोले, 'कांग्रेस ने बनाया संविधान, इसमें आपका कोई योगदान नहीं', जाने उद्बोधन की बड़ी बातें

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ( Ashok Gehlot ) ने शुक्रवार को विधानसभा ( Rajasthan Assembly ) के विशेष सत्र के दौरान अपने 'विरोधियों' को निशाने पर रखा। दो दिवसीय सत्र के दूसरे और आखिरी दिन संविधान पर अपने विचार रखते हुए सीएम गहलोत ने केंद्र की मोदी सरकार और प्रदेश की पूर्ववर्ती भाजपा सरकार की कार्यशैली को कटघरे में रखा।

जयपुर।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुक्रवार को विधानसभा के विशेष सत्र के दौरान अपने 'विरोधियों' को निशाने पर रखा। दो दिवसीय सत्र के दूसरे और आखिरी दिन संविधान पर अपने विचार रखते हुए सीएम गहलोत ने केंद्र की मोदी सरकार और प्रदेश की पूर्ववर्ती भाजपा सरकार की कार्यशैली को कटघरे में रखा।


संविधान पर अपने विचार रखते हुए सीएम गहलोत ने कहा कि बाबा साहेब अंबेडकर को टिकट नहीं देने की बात गलत है, उन्होंने टिकट नहीं मांगा, वो कांग्रेस में नहीं थे। पं.नेहरू उन्हें राज्यसभा में लाए थे। उन्होंने कहा कि संविधान बनाने में भाजपा काकोई योगदान नहीं रहा।

सीएम ने पिछले दिनों महाराष्ट्र में हुए सियासी उठापठक का ज़िक्र करते हुए पीएम मोदी और राज्यपाल की कार्यशैली पर सवाल खड़े किये। पूरे भाषण के दौरान सीएम ने जगह-जगह पर विपक्षी दलों और नेताओं की चुटकियां भी लीं।


सीएम गहलोत के उद्बोधन की 15 बड़ी बातें

- 'संविधान उपज है त्याग और बलिदान की, इसलिए एनडीए की उपलब्धियों बताना लाजिमी था, मेरे साथियों ने आपको बीच में डिस्टर्ब किया उसके लिए क्षमा'

- 'बाबा साहेब अंबेडकर को टिकट नहीं देने की बात गलत है, उन्होंने टिकट नहीं मांगा, वो कांग्रेस में नहीं थे, पं.नेहरू उन्हें राज्यसभा में लाए, डॉ.अंबेडकर को संविधान की ड्राफ्ट कमेटी में लाये'

- 'पंडित नेहरू एक महान हस्ती थे लेकिन सोशल मीडिया में क्या-क्या लिखा जा रहा है, वो जेल में होते थे तो उनकी धर्मपत्नी सड़कों पर आंदोलन करती थी।'

- 'इंदिरा गांधी ने आंदोलन में भाग लिया, श्यामा प्रसाद मुखर्जी और अंबेडकर को साथ लिया, जबकि कई मुद्दों पर विचार नहीं मिलते थे, लेकिन साथ लिया'

- 'पाकिस्तान है क्या चीज, लेकिन इस देश में पाकिस्तान का नाम लेकर माहौल बनाया गया। क्या ये संविधान की मूल भावना के अनुकूल है? हिंदुस्तान की तुलना पाकिस्तान से हो ही नहीं सकती। यहां लोकतंत्र है और वहां सैनिक शासन।

- 'प्रधानमंत्री ऐसी बातें बोल चुके हैं, कहाँ-कहाँ गलत बातें बोली हैं हम सभी जानते हैं, हमारे देश में सम्मान बढ़ रहा है जो 70 साल की तपस्या है इसलिए सम्मान हो रहा है। '

- 'आप स्वीकार करो कि आपका संविधान बनाने में योगदान नहीं है। आप इस बात को स्वीकार क्यों नहीं करते? संविधान की ताकत है कि आप सत्ता तक पहुंचे।

- 'बार-बार मोदी है तो मुमकिन है बोलते हैं, पता नहीं लोकतंत्र में यह कब तक चलेगा? देश में हिंसा, मोब लिंचिंग का माहौल चल रहा है, यह आज से पहले कभी नहीं था, इसके बावजूद मोदी है तो मुमकिन है बोला जा रहा है।'

- 'हमने यहां मॉबलिंचिंग को लेकर कानून बनाया, मैं मदद चाहूंगा आपसे, आम बिल पर राष्ट्रपति से हस्ताक्षर करवाएं, वो कानून दिल्ली में साइन के लिए रखा है, मोदी है तो मुमकिन है।'

- 'इस समय देश की न्यायपालिका दबाव में है, ईडी- इनकम टैक्स का दुरुपयोग हो रहा है। हमें संविधान पर गर्व होना चाहिए, इसे हम पढेंगे तो उसके एक एक शब्द पर हमें गर्व होगा।

- 'राजा बोला रात है, रानी बोली रात है... संतरी बोला रात है.. यह सुबह-सुबह की बात है... यह सोचने की बात है।' इन लाइनों के जरिए भाजपा में एकछत्र राज पर किया कटाक्ष।

- 'इलेक्ट्रोल बांड देश के लिए सबसे बड़ा सकैम, लोगों को इस बांड के खिलाफ सड़कों पर आना चाहिए, कांग्रेस मुक्त करने वाले खुद मुक्त हो जाएंगे लेकिन कांग्रेस मुक्त भारत नहीं कर पाएंगे।'

- 'एक सांसद गांधी के हत्यारे को देशभक्त कैसे बता सकती है, 'गांधी को आप मानो तो दिल दिमाग से मानो, केवल दिमाग से नहीं।'

- 'स्क्रेप की कीमत पर हिंदुस्तान जिंक को बेच दिया, केंद्र सरकार एयर इंडिया, बीपीसीएल सहित अन्य सरकारी उपक्रमो को बेचने पर तुली है। यही हाल जयपुर के अशोका होटल का हो रहा है।'

- 'अध्यक्ष महोदय मेरे मुंह से आपके बार बार निकल रहा, बार बार मुख्यमंत्री निकल रहा पता नहीं कल क्या हो जाये'?

pm modi Narendra Modi Prime Minister Narendra Modi
Show More
nakul Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned