हैड कांस्टेबल हत्या मामला: CM ने दिए जांच के आदेश, गनी की दो पुत्रियों को गोद लेगा पुलिस व प्रशासन

हैड कांस्टेबल हत्या मामला: CM ने दिए जांच के आदेश, गनी की दो पुत्रियों को गोद लेगा पुलिस व प्रशासन
हैड कांस्टेबल अब्दुल गनी (फाइल फोटो)

kamlesh sharma | Updated: 14 Jul 2019, 05:11:34 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

Rajasthan Police Constable Abdul Ghani Beaten To Death: राजसमंद के हैड कांस्टेबल अब्दुल गनी की मौत पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने गहरा दुख जताया है।

जयपुर/भीलवाड़ा। राजसमंद के हैड कांस्टेबल अब्दुल गनी ( Police Constable abdul gani ) की मौत पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ( Cm Ashok Gehlot ) ने गहरा दुख जताया है। सीएम गहलोत ने रविवार को ट्वीट कर लिखा, हैड कांस्टेबल अब्दुल गनी की मौत की खबर से बहुत दुख हुआ। उन्होंने लिखा, मैं आश्वस्त करना चाहता हूं कि उनके परिवार को न्याय मिलेगा। मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिजनों के साथ हैं। इस मामले की जल्द जांच कर हमलावरों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए है।

 

वहीं, हैड कांस्टेबल अब्दुल गनी की दो पुत्रियों को पुलिस व प्रशासन संयुक्त रूप से गोद लेगा। इसी प्रकार भीलवाड़ा व राजसमंद, पुलिस व प्रशासन के अधिकारी व कर्मचारी स्वैच्छिक रूप से 1 दिन का वेतन देंगे। जिला कलेक्टर राजेंद्र भट्ट ने पत्रिका से बातचीत में यह जानकारी दी।

बता दें कि उपखंड क्षेत्र की बरार ग्राम पंचायत के रातिया थाक गांव में भूमि विवाद का अनुसंधान करने गए भीम थाने के हैड कांस्टेबल अब्दुल गनी (48 ) पर शनिवार शाम छह बजे सुनसान सड़क पर कुछ लोगों ने हमला कर दिया। गंभीर घायल हैड कांस्टेबल का भीम अस्पताल में उपचार के दौरान दम टूट गया।

रविवार को पोस्टमार्टम के बाद कांस्टेबल गनी का शव तिरंगे में लिपटकर भीलवाड़ा पहुंचा। जहां शव को देखते ही परिजनों की रूलाई फुट पड़ी तो पुलिस लाइन में भी शोक की लहर दौड़ गई।

भट्ट ने बताया कि गनी की पांच संताने हैं, इनमें से दो पुत्रियों को भीलवाड़ा कलेक्टर वह भीलवाड़ा पुलिस अधीक्षक गोद लेंगे, इनके शिक्षा का पूरा दायित्व उठाएंगे। इसी प्रकार गनी की दो अन्य बेटियों व बेटे की भरण-पोषण की जिम्मेदारी उनके समाज ने ली है।

भट्ट ने बताया कि भीलवाड़ा जिला प्रशासन व पुलिस महकमे से जुड़े अधिकारी व कर्मचारियों से अपील की जाएगी कि वह 1 दिन का वेतन गनी के परिवार को समर्पित करें। भट्ट ने बताया कि गनी के आश्रितों को हर संभव राज्य सरकार से मिले एवं उनकी आवास की व्यवस्था हो इसके लिए भी राज्य स्तर पर प्रयास किए जाएंगे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned