जघन्य अपराधों पर सीएम गहलोत का वार, बनाई विशेष मॉनिटरिंग यूनिट

जघन्य अपराधों पर सीएम गहलोत का वार, बनाई विशेष मॉनिटरिंग यूनिट

kamlesh sharma | Updated: 18 Aug 2019, 07:08:27 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

गंभीर और सनसनीखेज अपराधों पर तुरंत कार्रवाई के लिए राज्य सरकार ने जघन्य अपराध मॉनिटरिंग यूनिट के गठन की घोषणा की है।

उमेश शर्मा/जयपुर। गंभीर और सनसनीखेज अपराधों पर तुरंत कार्रवाई के लिए राज्य सरकार ने जघन्य अपराध मॉनिटरिंग यूनिट के गठन की घोषणा की है। यह यूनिट एडीजी क्राइम की देखरेख में काम करेगी।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने रविवार को अपने निवास पर हुई प्रेस वार्ता में कहा कि यह यूनिट सनसनीखेज मामलों के प्रभावी अनुसंधान के साथ ही न्यायालय में ऐसे में मामलों की प्रभावी पैरवी करेगी। इसका प्रभारी अधिकारी आईजी रैंक का पुलिस अफसर होगा।

एक डीआईजी और दो एसपी रैंक के अधिकारी, दो विधि अधिकारी तथा प्रत्येक रेंज और पुलिस कमिश्नरेट क्षेत्र में एक—एक अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक या पुलिस उप अधीक्षक रैंक का अधिकारी इसमें शामिल होगा। गहलोत ने पहलू खान मामले में पिछली सरकार पर लापरवाही बरतने के आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि उनकी लापरवाही की वजह से ही अदालत से आरोपी छूट गए।

मामले में कई बार अनुसंधान अफसर बदले गए। घटना में शरीक मानने के बाद भी नामजद 6 आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया गया। घटना का वीडियो मिलने की बात कही, लेकिन आज तक मोबाइल को जप्त नहीं किया गया।

मामले को लेकर एसआईटी का गठन किया गया है जो 15 दिन में अपनी रिपोर्ट सौंपेगी। पहलू खान मामले में जिसने लापरवाही बरती उस पर कार्रवाई होगी। रतिराम मामले को लेकर गहलोत ने कहा कि कानून सबके लिए काम करेगा। कोई फर्क नहीं है हिन्दू हो या मुस्लिम।

उन्होंने कहा कि आज बैठक की थी, जिसमें बजट घोषणाओं के क्रियान्वयन को लेकर निर्देश दिए गए हैं। इन घोषणाओं का समय पर क्रियान्वयन किया जाएगा। साथ ही कल से राजीव गांधी की 75वीं सालगिरह को लेकर कार्यक्रम शुरू हो रहे हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned