केन्द्रीय मंत्री से गहलोत ने कहा: भले ही आप साइकिल से जाएं, चाहे धरना देना पड़े, लेकिन यह काम करके आएं

बीकानेर में विभिन्न कार्यों का शिलान्यास कार्यक्रम में कहा: मेघवाल से बोले गहलोत: टीके के लिए आपको केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री के यहां धरना देना पड़ेगा, आप हमारे वकील बनकर साइकिल से जाएं

By: pushpendra shekhawat

Published: 23 Jun 2021, 07:27 PM IST

समीर शर्मा / जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को बीकानेर में चिकित्सा एवं खेल के क्षेत्र में विभिन्न कार्यों के शिलान्यास कार्यक्रम के दौरान कोरोना वैक्सीन की प्रर्याप्त आपूर्ति के लिए केंद्रीय मंत्री अर्जुनराम मेघवाल से कहा कि आप हमारे वकील बनकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन के घर जाएं। आपको टीके के लिए स्वास्थ्य मंत्री के घर धरना देना पड़ेगा, खाली कह देने मात्र से काम नहीं चलने वाला।

उन्होंने कहा कि आपकी साइकल एमपी के नाम से पहचान है। आप साइकिल लेकर संसद जाते हो, ये अच्छी बात है। भले ही आप साइकिल से ही केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री के घर जाएं। वहां जाकर बताओ कि राजस्थान की स्थिति अन्य राज्यों से भिन्न है बिलकुल। तब जाकर मैं उम्मीद करता हूं कि हमारी तरफ केन्द्र का ध्यान जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश ने 15 लाख टीके प्रतिदिन लगाने की क्षमता हासिल कर ली है, लेकिन टीके ही नहीं होंगे, तो क्या फायदा। उन्होंने कहा कि टीकाकरण की गति टूट जाती है, केंद्र बंद करने पड़ते हैं। उन्होंने मेघवाल से कहा कि प्लीज आप इस ओर ध्यान दें।

हमारे साथ न्याय हो, नहीं चाहते एक्स्ट्रा फेवर
मुख्यमंत्री ने मेघवाल से कहा कि मेरी जो शिकायत थी, मैने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को वीसी में बता दी थीं। हम चाहते हैं कि हमारे साथ न्याय हो, हम कोई एक्स्ट्रा फेवर नहीं चाह रहे हैं। यदि समय पर टीके नहीं दिए जाएंगे, तो दूसरी डोज समय पर नहीं दी जा सकेगी। पहली डोज का कोई मायने नहीं रहेगा और पहली डोज लोगों तक नहीं पहुंची, तो हल्ला मचेगा कि क्या हो रहा है राजस्थान में। जुलाई में 75 लाख तक दूसरी डोज लम्बित हो जाएंगी।

ऑक्सीजन व रेमडेसिविर में हम भुगत चुके हैं
गहलोत ने मेघवाल से कहा कि हम ऑक्सीजन और रेमडेसिविर इंजेक्शन में बहुत कुछ भुगत चुके हैं। जहां मरीज कम थे वहां इनकी उपलब्धता अधिक थी और जहां ज्यादा थे, वहां दोनों को कम मात्रा में दिया जा रहा था। ये भारत सरकार के ही आंकड़ों को आप देख लीजिए।

Show More
pushpendra shekhawat Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned