सीएम ने दिए होमगार्ड के जवानों को खुशखबरी के संकेत

आगामी दिनों में होमगार्ड के जवानों को खुशखबरी मिल सकती है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इसके संकेत देते हुए कहा कि गृह रक्षा विभाग की ओर से होमगार्ड से संबंधित मांगें रखी गई हैं, उनका परीक्षण करवा कर इस संबंध में यथासम्भव कार्यवाही की जाएगी।

By: Prakash Kumawat

Updated: 24 Jun 2020, 11:36 PM IST

सीएम ने दिए होमगार्ड के जवानों को खुशखबरी के संकेत
होमगार्ड्स की मांगों होगी यथासंभव कार्यवाही: सीएम गहलोत

जयपुर 24 जून
आगामी दिनों में होमगार्ड के जवानों को खुशखबरी मिल सकती है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इसके संकेत देते हुए कहा कि गृह रक्षा विभाग की ओर से होमगार्ड से संबंधित मांगें रखी गई हैं, उनका परीक्षण करवा कर इस संबंध में यथासम्भव कार्यवाही की जाएगी।

मुख्यमंत्री गहलोत ने बुधवार को मुख्यमंत्री निवास से वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से गृह रक्षा निदेशालय के नवीन भवन के शिलान्यास एवं भ्रष्टाचार निरोधक विभाग के नए भवन के लोकार्पण के बाद होमगार्ड के जवानों की तारीफ की । उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण के खिलाफ जंग में लॉकडाउन के दौरान पुलिस के साथ मिलकर आमजन तक राशन पहुंचाने से लेकर कानून व्यवस्था बनाए रखने में होमगार्ड के जवानों ने अच्छा सहयोग किया है, इसके लिए वे साधुवाद के पात्र हैं। कोरोना से लड़ाई में आगे भी लंबा सफर तय करना है और इसमें होमगार्ड की भूमिका महत्वपूर्ण होगी।
गहलोत ने कहा कि होमगार्ड के जवानों को जरूरत पड़ने पर ही बुलाया जाता है, ऎसे में काम कम मिलता है और परिवार चलाने में दिक्कत होती है। उन्होंने अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह को निर्देश दिए कि ऎसी व्यवस्था की जाए कि होमगार्ड जवान और अधिक सक्षम हो कर काम कर सकें।

गृह रक्षा राज्य मंत्री भजन लाल जाटव ने बताया कि होमगार्ड जवानों के प्रशिक्षण के लिए मुख्यमंत्री ने 17 करोड़ रुपए का बजट विभाग को आवंटित किया है। होमगार्ड लांगरी का वेतन 2500 से बढ़ाकर 6300 रुपए प्रतिमाह एवं होमगार्ड जवानों को मिलने वाला प्रशिक्षण भत्ता भी 100 से बढ़ाकर 200 रुपए प्रतिदिन कर दिया गया है।

महानिदेशक, गृह रक्षा राजीव दासोत ने कहा कि 1962 में होमगार्ड की स्थापना के समय से ही इसका अपना भवन नहीं था। मुख्यमंत्री ने भवन के लिए विद्याद्यर नगर जयपुर में 1250 वर्ग मीटर भूमि आवंटित की और भवन निर्माण के लिए 11.30 करोड़ का बजट आवंटित किया। नए भवन में अधिकारियों के बैठने के लिए कमरों के अलावा वीसी रूम, ऑडिटोरियम, कम्प्यूटर लैब, योगा कक्ष, लाइब्रेरी आदि सुविधाएं भी हाेंगी।

Congress
Prakash Kumawat
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned