मुख्यमंत्री गहलोत ने कोविड के बढ़ते मामलों पर सख्ती बरतने के दिए ​संकेत

कोरोना के एक बार फिर से बढ़ते मामलों पर विशेषज्ञों के साथ आमजन के लिए लाइव दिखने वाली समीक्षा बैठक में चिंता जाहिर करते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लोगों से अपील की है कि वो मास्क लगाने, सामाजिक दूरी का पालन करने, बार बार हाथ धोने जैसे कोविड प्रोटोकॉल की गंभीरता से पालन करें और टीकाकरण करवाएं।

By: Ashish

Published: 03 Apr 2021, 11:06 PM IST

जयपुर

कोरोना के एक बार फिर से बढ़ते मामलों पर विशेषज्ञों के साथ आमजन के लिए लाइव दिखने वाली समीक्षा बैठक में चिंता जाहिर करते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लोगों से अपील की है कि वो मास्क लगाने, सामाजिक दूरी का पालन करने, बार बार हाथ धोने जैसे कोविड प्रोटोकॉल की गंभीरता से पालन करें और टीकाकरण करवाएं। मुख्यमंत्री ने कहा कि मास्क और वैक्सीन दोनों ही महत्वपूर्ण हैं। साथ ही गहलोत ने बढ़ते मामलों पर नियंत्रण के लिए सख्त कदम उठाने के संकेत देते हुए यह कहा कि केन्द्र सरकार को एसओपी यानि कोविड से बचाव के लिए जरूरी दिशा निर्देश जारी करनी चाहिए। पूरे देश में कोविड को देखते हुए अनुशासन लाने के लिए केन्द्र एसओपी जारी करे। वैक्सीनेशन पूरी ताकत के साथ किया जाना चाहिए। इसके लिए केन्द्र से बात करेंगे।
केन्द्र एसओपी जारी करता है तो अच्छी बात है, वर्ना मजबूर होकर राज्य सरकार को जल्द एसओपी जारी करनी पड़ेगी। गहलोत ने कहा कि इस पर एक दो दिन में जल्द निर्णय करेंगे। गहलोत ने संकेत दिए कि कोविड को हराने के लिए सख्ती के साथ ही लोगों को नए सिरे से समझाइश करके कोरोना को हराने के लिए सरकार कदम उठाएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वैक्सीनेशन जरूरी है। वैक्सीन लगवाने के बाद मास्क लगाना भी जरूरी है। अगर वैक्सीन लगवा लेते हैं और फिर भी पॉजिटिव आ जाते हैं तो जान बच जाएगी। वैक्सीन लगवाने के बाद भी मास्क लगाएं। गहलोत ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि कोविड के कारण स्थिति चिंताजनक और बिगड़ती जा रही है, इसलिए अधिकाधिक वैक्सीनेशन के लिए कैंपन चलाएं। साथ ही उन्होंने कहा कि कोविड की अगली समीक्षा बैठक, जिसमें विशेषज्ञ डॉक्टर्स होंगे, उसे भी जनता के लिए सोशल मीडिया पर लाइव किया जाएगा। ताकि लोग विशेषज्ञों की राय के साथ सरकार की तैयारियों की जानकारी प्राप्त कर सकें। गहलोत ने आमजन से अपील करते हुए कहा कि जीती जंग हार नहीं जाएं, हमें सबके सहयोग से जीती हुई जंग तो जीते रखना है।


विशेषज्ञों, अफसरों ने दिए कई अहम सुझाव

इस लाइव समीक्षा बैठक को सोशल मीडिया के जरिए एक लाख 86 हजार से ज्यादा लोग जुड़े रहे। बैठक में विशेषज्ञों ने कोविड प्रोटोकॉल की सख्त पालना करवाने, जीनोम स्टडी करवाने, रेस्टोरेंट कैफेज को कुछ दिन बंद करने, बाजारों में कोविड गाइडलाइन की उल्लंघना पर सीज करने समेत सख्त कदम उठाने, भीड़भाड़ को नियंत्रित करने के साथ ही विवाह समेत अन्य समारोह का सीमित संख्या के साथ बंद स्थान की बजाय खुले स्थान पर आयोजन करने, टीकाकरण के लिए लोगों को जागरूक करने, मेडिकल इंस्ट्राक्चर को और मजबूत बनाने, कोविड के खतरे को देखते हुए पूर्व की भांति जरूरी इंतजाम करने, युवाओं में वैक्सीनेशन करवाने के साथ ही उन्हें सुपर स्प्रेडर बनने से रोकने के लिए कदम उठाने, कोविड प्रोटोकॉल की पालना सुनिश्चित करने के लिए टास्क फोर्स बनाकर आॅनस्पॉट कार्रवाई की व्यवस्था शुरू करवाने, अगले दो सप्ताह के लिए मेले, हटवाड़ों, रेस्टोरेंट, कैफेज बंद करवाने, नाइट कर्फ्यू लगाने की पावर कलेक्टर्स को देने, कोरोना जांच और वैक्सीनेशन का आंकड़ा बढ़ाने के साथ अन्य कई महत्वपूर्ण सुझाव दिए।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned