राजस्थान में पुलिस भर्ती को लेकर बड़ी खबर, CM गहलोत ने हजारों पदों को जल्द भरने के दिए निर्देश

राजस्थान में पुलिस भर्ती को लेकर बड़ी खबर, CM गहलोत ने हजारों पदों को जल्द भरने के दिए निर्देश

rohit sharma | Updated: 12 Jun 2019, 03:15:41 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

Rajasthan Constable Bharti 2019 : राजस्थान में बेरोजगार युवकों के लिए बड़ी खबर है। पुलिस में नौकरी करने के इच्छुक युवकों को गहलोत सरकार बड़ी सौगात देने जा रही है। हाल ही में मुख्यमंत्री गहलोत ( CM Ashok Gehlot ) ने एक खास बैठक में पुलिस के रिक्त पदों पर भर्ती ( Rajasthan Police Bharti 2019 ) को लेकर घोषणा की है।

 

जयपुर।

राजस्थान में बेरोजगार युवकों के लिए बड़ी खबर है। पुलिस में नौकरी करने के इच्छुक युवकों को गहलोत सरकार बड़ी सौगात देने जा रही है। हाल ही में मुख्यमंत्री गहलोत ( Cm Ashok Gehlot ) ने एक खास बैठक में पुलिस के रिक्त पदों पर भर्ती ( rajasthan police bharti 2019 ) को लेकर घोषणा की है।

 

मुख्यमंत्री गहलोत ने पुलिस उच्चाधिकारियों की बैठक में कहा कि पुलिस के रिक्त पदों को भरने के लिए कॉन्स्टेबल एवं एसआई की भर्ती प्रक्रिया जल्द शुरू होगी। भर्ती के इन पदों में 8 हजार 600 पद कांस्टेबल के व 706 पद एसआई के शामिल है। मुख्यमंत्री गहलोत ने ट्वीट कर भी भर्ती के पदों के लिए जानकारी दी है।

 

मुख्यमंत्री ने बैठक के दौरान युवा पीढ़ी में बढ़ रहे नशे के चलन पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि इससे हमारी आने वाली पूरी पीढ़ी बर्बाद हो जाएगी। पुलिस एवं आबकारी विभाग के अधिकारी प्रदेश में नशीले पदार्थोें के अवैध कारोबार को सख्ती से रोकें और हुक्का बार पर पूर्ण प्रतिबंध लगाएं। इस सम्बन्ध में यदि कोई विधिक बाधा आती है तो उनका अध्ययन कर ऎसे कानूनों को अमलीजामा पहनाएं।


गौ रक्षा के नाम पर कानून हाथ में लेने का हक नहीं

गहलोत ने गौ तस्करी, मॉब लिंचिंग, सड़क दुर्घटनाओं में होने वाली मौतों, साइबर एवं आर्थिक अपराधों आदि पर लगाम लगाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि गौरक्षा के नाम पर भीड़ को कानून हाथ में लेने का हक नहीं है, ऎसे अपराधियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए। पहले ऎसे कई मामलों में प्रदेश की छवि खराब हुई है। इन मामलों में पुलिस प्रोएक्टिव रहकर संवेदनशीलता के साथ काम करे ताकि ऎसी घटनाओं की पुनरावृत्ति नहीं हो। मुख्यमंत्री ने कहा कि पुलिस का रेस्पोंस टाइम क्विक हो तो आधे अपराध तो स्वतः ही कम हो जाएं।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned