scriptCM Gehlot verbally attacked on Modi government regarding ED | मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का केंद्र पर बड़ा आरोप, सरकार गिराने में ED को बनाया जा रहा हथियार | Patrika News

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का केंद्र पर बड़ा आरोप, सरकार गिराने में ED को बनाया जा रहा हथियार

-सीएम ने कहा, सोनिया गांधी वो महिला जिसने प्रधानमंत्री का पद तक स्वीकार नहीं किया, कांग्रेस मुक्त भारत की बात करने वाले अब विपक्ष मुक्त भारत की बात करने लगे हैं, उदयपुर घटना में एनआईए की एंट्री पर सीएम गहलोत ने उठाए सवाल

जयपुर

Updated: July 21, 2022 11:14:41 am

जयपुर। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पर ईडी की की कार्रवाई के विरोध में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने केंद्र की मोदी सरकार पर हमला बोला है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार चुनी हुई सरकारों को गिराने में ईड़ी का इस्तेमाल कर रही है।

ashok gehlot
ashok gehlot

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज दिल्ली में एआईसीसी मुख्यालय मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि सांसदों और विधायकों को ईडी के जरिए धमकाया जाता है। गोवा, मणिपुर, कर्नाटक, मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र में चुनी हुई सरकारों को गिराने में केंद्र सरकार ने ईडी को अपना हथियार बनाया हुआ है।

केंद्रीय जांच एजेंसियों का दुरूपयोग करके मोदी सरकार इन एजेंसियों की विश्वसनीयता कम कर रही है।मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि हम कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पर ईडी की कार्रवाई का पुरजोर शब्दों में विरोध करते हैं और इसके विरोध में आज देश भर में कांग्रेस कार्यकर्ता धरने प्रदर्शन कर रहे हैं

सोनिया गांधी ने प्रधानमंत्री का पद ठुकराया
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि केंद्र सरकार ईडी के जरिए गांधी परिवार को परेशान कर रही है। पहले 5 दिन 50 घंटे तक राहुल गांधी से पूछताछ की गई और अब पूछताछ के लिए सोनिया गांधी को बुलाया जा रहा है। सोनिया गांधी के घर जाकर भी ईडी उनसे पूछताछ कर सकती थी, पहले भी कई बार ईडी कई लोगों से घर जाकर पूछताछ कर चुकी है।

अशोक गहलोत ने कहा कि सोनिया गांधी वो महिला है जिन्होंने प्रधानमंत्री का पद ठुकराया था। यूपीए का गठन किया और मनमोहन सिंह को प्रधानमंत्री बनाया। सोनिया गांधी उस परिवार से हैं जहां पर पंडित नेहरू और इंदिरा गांधी जैसे प्रधानमंत्री हुए।

इंदिरा गांधी ने पाकिस्तान के दो टुकड़े कर दिए। पाकिस्तान के 90 हजार सैनिकों को सरेंडर करवा दिया, अपने प्राणों की आहुति दे दी लेकिन देश को अखंड रखा। राजीव गांधी ने देश के लिए शहादत दी है।

बीजेपी ने देश में अलग-अलग कानून बनाए
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि बीजेपी ने देश में दो कानून बना रखे हैं, एक कानून विपक्ष के लोगों के लिए है और दूसरा खुद के लिए हैं। विपक्ष के नेताओं को केंद्रीय जांच एजेंसियों के जरिए डराया जाता है।

शिवसेना के कई सांसदों को विधायकों को ईडी के जरिए डराया गया और उनकी सरकार गिराई गई। अब जब महाराष्ट्र में शिवसेना के असंतुष्ट विधायकों और बीजेपी की सरकार बन गई है तो उन सभी के गुनाह माफ हो गए। इससे साफ है कि केंद्र सरकार विपक्ष को दबाने के लिए जांच एजेंसियों का दुरुपयोग कर रही है।

एनआईए की जांच पर गहलोत ने उठाए सवाल
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि देश भर में इतनी घटना हुई है लेकिन उदयपुर घटना होते ही एनआईए ने उस मामले को अपने हाथ में ले लिया। हमने इस पर कोई एतराज नहीं किया लेकिन हमें संदेह पैदा करता है कि एनआईए रात को ही इस मामले में कैसे इंवॉल्व हो गई, जबकि हमारी एजेंसियों ने जांच शुरू कर दी कर दी थी।

दोनों आरोप पकड़ गए थे। नेता प्रतिपक्ष के फोटो आरोपियों के साथ वायरल हुए हैं, इनको पहले छुडाने के लिए सिफारिश भी बीजेपी के नेताओं ने थाने में की थी। ये तमाम बातें सिद्ध करती है कि जो मारने वाले थे वो बीजेपी के साथ जुड़े हुए थे।

इस मामले में बीजेपी पूरे देश में एक्सपोज हुई। बीजेपी का बैकग्राउंड क्या है यह किसी से छुपा नहीं है। एनआईए को चाहिए कि जो घटना हुई है उसे लेकर धरातल पर जाएं और आरोपियों का बीजेपी से क्या लिंक था उसकी जांच करें।

लोकतंत्र और संविधान की धज्जियां उड़ाई
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार लगातार देश में लोकतंत्र और संविधान की धज्जियां उड़ा रही है। कांग्रेस के मुख्यालय में कांग्रेस के नेताओं को नहीं आने दिया जा रहा है। कांग्रेस कार्यालय के बाहर पुलिस छावनी बना दी गई है। ऐसा पहले कभी नहीं हुआ, इन्हें समझना चाहिए कि जनता का मूड कभी बदल सकता है। इसलिए इस तरह के हथकंडे नहीं अपनाने चाहिए।

पंडित नेहरू के योगदान को नहीं मानती केंद्र सरकार
गहलोत ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार आजादी का अमृत महोत्सव मनाने जा रही है। अगस्त माह में हर घर पर तिरंगा झंडा लगाने की बात कर रही है लेकिन यह लोग देश के निर्माण में कांग्रेस के योगदान को नहीं मानते। पंडित नेहरू के योगदान को नहीं मानते हैं, पहले बीजेपी और केंद्र के नेताओं को समझना चाहिए कि देश जब आजाद हुआ था तब देश में क्या था और आज देश में क्या है। 70 साल में जो देश ने विकास किया है उसमें कांग्रेस के नेताओं का महान योगदान है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

NSA अजीत डोभाल की सुरक्षा में चूक को लेकर केंद्र का बड़ा एक्शन, हटाए गए 3 कमांडो'रूसी तेल खरीदकर हमारा खून खरीद रहा है भारत', यूक्रेन के विदेश मंत्री Dmytro KulebaNagpur Crime: डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस के घर के बाहर मजदूर ने किया सुसाइड, मचा हड़कंपरोहिंग्या शरणार्थियों को फ्लैट देने की खबर है झूठी, गृह मंत्रालय ने कहा- केंद्र ने ऐसा कोई आदेश नहीं दियालालू यादव ने बताया 2024 का प्लान, बोले- तानाशाह सरकार को हटाना हमारा मकसद, सुशील मोदी को बताया झूठाPunjab Bomb Scare: अमृतसर में SI की गाड़ी में बम लगाने वाले दो आरोपी दिल्ली से गिरफ्तार, कनाडा भागने की फिराक में थेगुजरात चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, वरिष्ठ नेता नरेश रावल और राजू परमार ने थामी भाजपा की कमानशाबाश भावना: यूरोप की सबसे बड़ी चोटी भी नहीं डिगा पाई मध्यप्रदेश की बेटी का हौसला
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.