scriptCommittee will do screening before regularizing contract workers | Regularizing contract workers, पहले कमेटी करेगी स्क्रीनिंग | Patrika News

Regularizing contract workers, पहले कमेटी करेगी स्क्रीनिंग

राजस्थान में सरकारी विभाग में कार्यरत contract workers को नियमित करने का मामला फिर उलझ गया है।

जयपुर

Published: January 12, 2022 06:32:50 pm

जयपुर। राजस्थान में सरकारी विभाग में कार्यरत contract workers को नियमित करने का मामला फिर उलझ गया है। संविदाकर्मियों के लिए नियुक्ति के लिए नए नियम बनाए गए है। इसमें केवल ये संशोधन किया गया है कि नियमित करने से पहले कमेटी स्क्रीनिंग करेगी। ये नियम भी 5 साल से काम कर रहे संविदाकर्मी के लिए ही लागू होगा।
jaipur
Secretariat
संविदा नियुक्ति के नियम जारी—
प्रदेश में पिछले दिनों कैबिनेट ने संविदाकर्मियों की नियुक्ति के लिए नियमों को मंजूरी दी थी। अब संविदा नियुक्ति के नियम जारी किए हैं। इन नियमों में संविदा कर्मचारियों की भर्ती से लेकर उन्हें नौकरी से हटाने तक के प्रावधान साफ कर दिए हैं। संविदा पर केवल उन पदों पर ही भर्ती होगी जो नियमित पद नहीं हैं। सरकारी विभाग वित्त विभाग की मंजूरी के बाद अपने स्तर पर कॉन्ट्रैक्ट पर कर्मचारी रखेंगे।
तीन महीने का नोटिस या तीन महीने की सैलरी देकर हटा सकेंंगे।
प्रदेश में सरकारी विभागों में संविदा पर रखे कर्मचारी को तीन महीने का नोटिस या तीन महीने की सैलरी देकर हटा सकेंंगे। इसके अलावा किसी प्रोजेक्ट पर संविदाकर्मी को नियुक्त किया गया है तो प्रोजेक्ट पूरा होने पर पांच महीने का वेतन देकर उसकी सेवा समाप्त कर दी जाएगी। ऐसे मामले में बचे हुए समय में एक साल पर एक महीने का वेतन मुआवजे के तौर पर दिया जाएगा।
नियमों का कर रहे हैं अध्ययन—
पंचायत सहायक संघ के प्रदेश संयोजक रामजीत पटेल ने कहा कि इन नियमों का अध्ययन करवाया जा रहा है राजस्थान विधार्थी मित्र पंचायत सहायक संघ 75 दिन तक शहीद स्मारक पर धरने बैठा उसकी बदौलत सरकार ने आनन-फानन में जो मसौदा आउट किया है यह समझ से परे है सरकार इसमें मानदेय , नियतिमतिकरण की प्रक्रिया को भी स्पष्ट रूप से आउट करे अन्यथा इन सेवा नियमो की होली सबसे पहले पंचायत सहायक संघ जलाएगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.