बांग्लादेश की आजादी की 50 वीं वर्षगांठ को शौर्य दिवस के रूप में मनाने में जुटी कांग्रेस

अक्टूबर के पहले सप्ताह तक प्रदेश सभी जिलों में होंगे शौर्य दिवस कार्यक्रम, 16 दिसंबर को दिल्ली में राष्ट्रीय स्तर पर होगा शौर्य दिवस कार्यक्रम,शौर्य दिवस की तैयारियों को लेकर प्रदेश और जिला संयोजकों की पीसीसी में हुई बैठक, पूर्व सैनिकों का पीसीसी में किया गया सम्मान

By: firoz shaifi

Published: 10 Sep 2021, 07:16 PM IST

जयपुर। बांग्लादेश की आजादी के 50 वीं वर्षगांठ को शौर्य दिवस के रूप में मनाने की तैयारियों को लेकर प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में शुक्रवार को शौर्य दिवस को लेकर गठित प्रदेश और जिला समिति के संयोजकों की बैठक आयोजित हुई, जिसमें समिति के राष्ट्रीय संयोजक कैप्टन प्रवीण डावर, प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा और समिति के प्रदेश संयोजक महेंद्रजीत सिंह मालवीय शामिल हुए और शौर्य दिवस के सभी जिलों में होने वाले कार्यक्रमों को लेकर तैयारियों पर चर्चा हुई।

बैठक में बांग्लादेश की आजादी की लड़ाई में भाग ले चुके पूर्व सैनिक और उनके परिजन भी शामिल हुए। समिति की बैठक के दौरान परमवीर चक्र से सम्मानित शहीद होशियार सिंह के पुत्र विजय सिंह का सम्मान भी किया गया।


बैठक के बाद समिति के राष्ट्रीय संयोजक कैप्टन प्रवीण डावर ने कहा कि देश को आजाद कराने में कांग्रेस का बहुत बड़ा योगदान है। कांग्रेस के नेताओं ने देश को आजादी दिलाने में अपने प्राणों की आहुति दी है। बांग्लादेश को आजाद कराने में कांग्रेस का बड़ा योगदान है और सेना ने अपने शौर्य दिखाते हुए पाकिस्तान को धूल चटाई थी। इसीलिए कांग्रेस पार्टी बांग्लादेश की 50 वीं वर्षगांठ पर साल भर शौर्य दिवस के कार्यक्रम आयोजित करेगी ।

प्रवीण डावर ने कहा कि अक्टूबर के पहले सप्ताह तक राजस्थान के सभी जिलों में शौर्य दिवस के कार्यक्रम आयोजित होंगे। इस दौरान कांग्रेस नेताओं का योगदान और इंदिरा गांधी शौर्य दिवस के कार्यक्रम जिला प्रदेश और राष्ट्रीय स्तर पर होंगे 16 दिसंबर को राष्ट्रीय स्तर पर शौर्य दिवस का कार्यक्रम आयोजित होगा जिसमें कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ ही बांग्लादेश बांग्लादेश की आजादी के युद्ध में भाग लेने वाले पूर्व सैनिक और उनके परिजन में शामिल होंगे।

शौर्य दिवस को लेकर भाजपा के नक्शे कदम पर चलने के सवाल पर कहा कि कांग्रेस भाजपा के नक्शे कदम पर नहीं चल रही है बल्कि कांग्रेस आजादी से पुरानी पार्टी है और एक लंबा इतिहास रहा है।

बैठक में इनका भी किया गया सम्मान
बैठक में वीर चक्र विजेता शहीद हवलदार गंगाधर की पुत्री सजना, सेना मेडल से सम्मानित ब्रिगेडियर भगवान सिंह, कर्नल आर. के. बिजारणिया, कर्नल श्रीनिवास रेपसवाल, सेना मेडल विजेता कैप्टन सुखदेव सिंह, कैप्टन हरी सिंह, कैप्टन उयाकत अली, कैप्टन लियाकत अली खान, कैप्टन हाजी खान, ओनोरेरी कैप्टन अलादीन खान, ओनोरेरी कैप्टन रदीन सिंह, रिसालदार मेजर यासीन खान, सूबेदार भरतसिंह, रिसालदार गुलजार अहमद, सूबेदार इकबाल खान, डीएफआर युसुफ अली खान, एलडी खान मोहम्मद, नायक मकसूद खान, हवलदार रघुवीर सिंह को सम्मानित किया गया।

firoz shaifi Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned