कांग्रेस पर्यवेक्षक आज से करेंगे दावेदारों की रायशुमारी, 13 जनवरी तक सौंपेंगे तीन-तीन नामों का पैनल

-जिले के प्रभारियों को ही कांग्रेस ने बनाया है पर्यवेक्षक, प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में चुनाव से संबंधित कंट्रोल रूम भी होगा स्थापित

By: firoz shaifi

Published: 11 Jan 2021, 01:08 PM IST

जयपुर। प्रदेश के 90 निकायों में कांग्रेस प्रत्याशियों की खोजबीन का काम से आज से तेज हो जाएगा। प्रदेश कांग्रेस की ओऱ से निय़ुक्त पर्यवेक्षक आज अपने-अपने प्रभार वाले जिलों में पहुंचेंगे और प्रत्याशी चयन के लिए दावेदारों के नामों की रायशुमारी करेंगे। प्रदेश कांग्रेस ने जिला प्रभारियों को ही पर्यवेक्षक की जिम्मेदारी सौंपी हैं।

कांग्रेस पर्यवेक्षक आज और कल दो दिन स्थानीय नेताओं, विधायकों और संगठन से जुड़े नेताओं के साथ बैठकें चुनावी रणनीति तैयार करने के साथ ही चुनाव लड़ने के इच्छुक दावेदारों से भी वन टू वन मुलाकात कर उनमें से फीडबैक के आधार पर जिताऊ उम्मीदवारों की तलाश करेंगे। बताया जाता है कि कई पर्यवेक्षक तो रविवार को हुई प्रदेश कांग्रेस की बैठक के बाद देर रात ही अपने-अपने प्रभार वाले जिलों में पहुंच चुके थे, जबकि कई पर्यवेक्षक आज दोपहर तक अपने प्रभार वाले जिलों में पहुंचेंगे।

तीन-तीन नामों का पैवल सौंपेंगे पीसीसी को
प्रदेश कांग्रेस की ओर से नियु्क्त किए गए पर्यवेक्षक दो दिन जिताऊ दावेदारों से मुलाकात और रायशुमारी कर स्थानीय नेताओं से उनके बारे में फीडबैक लेंगे और उसके बाद 13 जनवरी को जयपुर आकर 3-3 नामों का पैनल बनाकर प्रदेश कांग्रेस नेतृत्व सौंपेंगे, जिस पर प्रदेश कांग्रेस नेतृत्व नामों पर मुहर लगाकर पुनः पर्यवेक्षकों को सूची सौंप देंगे और पर्यवेक्षक जिलों में जाकर पार्टी की ओर से फाइनल किए गए नामों की घोषणा कर देंगे।

पीसीसी पदाधिकारी ही बने पर्यवेक्षक
वहीं प्रदेश कांग्रेस कार्यकारिणी के पदाधिकारियों को ही चुनाव पर्यवेक्षक बनाया है, जो पदाधिकारी जिस जिले का प्रभारी है उसे उसी जिले का प्रभारी बनाया है, हालांकि जिन जिलों में निकाय चुनाव हैं उन जिला प्रभारियों को ही तत्काल में अपने प्रभार वाले जिलों में जाने के निर्देश दिए गए थे, तथा जहां चुनाव नहीं हैं वहां के जिला प्रभारी बाद में अपने जिलों में जाएंगे।

पीसीसी मुख्यालय में बनेगा कंट्रोल रूम
90 निकायों में हो रहे चुनाव में चुनाव प्रबंधन को लेकर प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में जल्द ही एक कंट्रोल रूम भी स्थापित किया जाएगा, जहां से पूरे 90 निकायों में होने वाले चुनाव की मॉनिटरिंग करने के साथ स्थानीय नेताओं और प्रत्याशियों को समय-समय पर दिशा-निर्देश जारी किए जाएंगे। गौरतलब है कि 90 निकायों में चुनाव के लिए नामांकन दाखिल करने की प्रक्रिया आज से शुरू हो गई है, नामांकन की आखिरी तारीख 15 जनवरी है। ऐसे में प्रदेश कांग्रेस को नामांकन की आखिरी तारीख से पहले-पहले प्रत्याशियों की घोषणा करनी है।

firoz shaifi Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned