फर्जी पट्टों और भ्रष्टाचार के खिलाफ शहर कांग्रेस का हल्ला बोल

जांच की मांग को लेकर कल शहर के सभी थानों में करवाएंगे मामले दर्ज

By: firoz shaifi

Published: 13 Mar 2018, 12:16 PM IST

 

जयपुर। नगर निगम में फर्जी पट्टों और जेडीए में व्याप्त भ्रष्टाचार के मामले उजागर होने के बावजूद किसी प्रकार की कार्रवाई नहीं होने पर अब शहर कांग्रेस ने इसके खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। बुधवार को शहर कांग्रेस की ओर से शहर के सभी थानों में फर्जी पट्टे और भ्रष्टाचार के घोटाले की जांच की मांग को लेकर मुकदमे दर्ज करवाए जाएंगे। वहीं सभी 91 वार्डों की समस्याओं के समाधान को लेकर भी पदयात्राएं शुरू की जाएंगी। शहर अध्यक्ष प्रताप सिंह खाचरियावास ने बताया कि नगर निगम, जेडीए में लगातार भ्रष्टाचार के मामले सामने आ रहे हैं लेकिन अब तक सरकार भ्रष्टाचार के सभी मामलों में पर्दा डालने पर लगी हुई है, पूरे प्रदेश में भ्रष्टाचार और कुशासन का बोलबाला है। भाजपा की सरकार सभी लोगों का समर्थन खो चुकी है। प्रदेश के लोग भाजपा सरकार को सबक सिखाने का पूरी तरह से मन बना चुके हैं। खाचरियावास ने कहा कि भाजपा सरकार में भ्रष्टाचार की खुली छूट मिली हुई है। उन्होंने कहा भ्रष्टाचार और सरकार के काले कारनामों के विरोध में कांग्रेस कार्यकर्ता कंधे से कंधा मिलाकर इस सरकार को राज्य से उखाड़ फेंकेगा। भाजपा सरकार के खिलाफ होने वाले इस प्रदर्शन को लेकर शहर कांग्रेस ने सभी वार्ड अध्यक्षों और नेताओं को इसकी जिम्मेदारी दी है।


शक्ति कार्यक्रम का शुभारंभ
इसस पहले सोमवार की पीसीसी में हुई शहर कांग्रेस की बैठक में शक्ति कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। प्रदेश के सह प्रभारी विवेक बंसल ने कार्यक्रम का शुभारंभ करते हुए कहा कि पूरे देश में कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को नई आवाज देने के लिये हर युवा को अपने साथ जोड़कर शक्ति कार्यक्रम के जरिये राहुल गांधी प्रत्येक कार्यकर्ता से सीधे संवाद बनाने जा रहे हैं। इससे पूरे देश में कांग्रेस के कार्यकर्ताओं और आम आदमी में भारी उत्साह हैं लाखों लोग अब तक शक्ति कार्यक्रम से जुड़ चुके हैं। बता दें कि पूर्व में भी शहर कांग्रेस की ओर से भ्रष्टाचार को लेकर लोकायुक्त में शिकायत दर्ज करवाई गई है।

 

firoz shaifi Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned